bihar police recruitment online

अपने परिवार का पालन पोषण कर रहे हैं। उसकी मां कैलाश देवी गृहिणी हैं। दोनों ज्यादा पढ़े-लिखे भी नहीं हैं। इसके बावजूद भी दोनों ने अपनी बेटी श्वेता को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाया और दिन रात मेहनत कर बेटी को निजी स्कूल में शिक्षा दिलवाई। बेटी ने भी अपनी अथक मेहनत व लग्र से माता-पिता का सपना पूरा किया। माता-पिता ने अपनी बेटी की सफलता पर गर्व जताया और कहा कि हमारी बेटी के बेटों से कम सै। वहीं श्वेता रानी ने अपनी सफलता का श्रेय स्कूल के शिक्षकों एवं माता-पिता को दिया। श्वेता ने बताया कि वह स्कूल के अलावा रोजाना घर पर आठ से नौ घंटे पढ़ा करती थी। उसने कभी भी ट्यूशन का सहारा नहीं लिया। उसने बताया कि उसकी मां कैलाश देवी स्वयं नहीं पढ़ पाई और उनका परिवार आर्थिक रूप से कमजोर रहा है। इसके बावजूद भी उसकी मां ने उसका हौसला बढ़ाया और उसने कड़ा परिश्रम कर इस मुकाम को हासिल किया है। उसने बताया कि वह आगे चलकर वकील बनना चाहती है। क्योंकि देखने में आता है कि आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को न्याय मिलने में काफी देरी होती है और उनके पास इतना पैसा भी नहीं होता की वे अदालती खर्च को वहन कर सकें। वह आगे चलकर वकील बनकर जरूरतमंद लोगों को न्याय दिलवाने का प्रयास करेंगी। उधर स्कूल संचालक आशीष व आदर्श हाई स्कूल बड़सी के संचालक श्याम सुंदर ने भी श्वेता रानी की सफलता पर बधाई दी है।

Bihar: बिहार में प्रचंड ठंड के साथ बारिश का स

Nov 06, 2022 Davies

बिहार(BIHAR)केकईजिलोंमेंगुरुवारदेररातसेतेजबारिशहोरही,यहांलगातारहोरहीबाशिशऔरओलागिरनेकीवजहसेप्रचंडठंडहै.गुरुवाररातऔरशुक्रव…