जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:बिनामान्यताकेचलरहे36स्कूलोंकीसूचीनिदेशककोभेजकरशिक्षाविभागनेखानापूर्तिकरलीहै।जबकिअधिकारियोंनेजोसर्वेकरायाथाउसमेंबिनामान्यताकेचलरहेकाफीस्कूलोंकोछोड़दियागया।ऐसेस्कूलोंकीसंख्या55सेअधिकहै।इनस्कूलोंपरशिक्षाविभागकेअधिकारीपूरीतरहमेहरबानहैं।काफीस्कूलतोऐसेहैंजोशिक्षाअधिकारियोंकेऑफिसकेबिल्कुलनजदीकहैं।शहरकेसाथग्रामीणक्षेत्रमेंतोऐसेस्कूलोंकीबाढ़आगईहै।कईस्कूलचारकमरोंमेंहीस्कूलखोलरखेहैं।कोर्टकेआदेशपरकरायाथासर्वे

कोर्टकेआदेशोंपरशिक्षाविभागनेगतवर्षजिलामेंबिनामान्यताकेचलरहेप्राइवेटस्कूलोंकासर्वेकरायाथा,परंतुविभागकोसर्वेमेंकेवल36स्कूलहीबिनामान्यताकेमिले।जबकिवास्तविकताइससेउलटहै।पुरानेनेशनलहाईवेकिनारे,जगाधरीमेंजड़ोदागेटकेनजदीक,कैंप,फर्कपुरसमेतग्रामीणक्षेत्रोंमेंऐसेस्कूलहैंजोबिनामान्यताकेचलरहेहैं।सर्वेमेंहीकरदीजातीहैहेराफेरी

सूत्रोंकेअनुसारजबबिनामान्यतावालेस्कूलोंकीसूचीतैयारकीजातीहैतोकर्मचारीस्तरपरहीहेराफेरीकरदीजातीहै,जिसकारणइनस्कूलोंकेनामसामनेनहींआपाते।अधिकारीभीऐसेस्कूलोंपरकार्रवाईकरनेमेंज्यादादिलचस्पीनहींलेते।आंखोंमेंधूलझोंकलाखोंकाकारोबार

बिनामान्यताकेचलनेवालेस्कूलशिक्षाविभागकीआंखोंमेंधूलझोंककरहरसाललाखोंरुपयेकाकारोबारकरतेहैं।अप्रैलमहीनेमेंपहलेएडमिशनफीस,मासिकफीस,परीक्षाशुल्क,स्कूलमेंनिजीप्रकाशकोंकीकिताबेंबेचकरलाखोंरुपयेहजमकरलियाजाताहै।शिकायतकेइंतजारमेंरहताहैविभाग

जबकोईआवाजउठाताहैतोअधिकारियोंकाएकहीजवाबहोताहैकिउनकेपासइससंबंधमेंकोईशिकायतनहींआईहै।शिक्षाकेनामपरजोस्कूलकारोबारकररहेहैंवोवर्ष2003केबादखुलेहैं,क्योंकि2003मेंबनेनियमकेअनुसारस्कूलखोलनेकेलिएपहलेबोर्डसेअनुमतिलेनीजरूरीथी।स्कूलखोलनेकेबादनिर्धारितसमयमेंमान्यताकेलिएअप्लाईकरनाहोताहै।इनस्कूलोंनेअनुमतिलेकरस्कूलतोखोललिए,लेकिनमान्यताकेलिएअप्लाईनहींकिया।2003केबादअबतकनहींहुईकार्रवाई

अधिकारियोंनेभीइतनेसालोंमेंऐसेस्कूलोंपरकोईकार्रवाईनहींकी।यदिइनस्कूलोंकामामलाकोर्टमेंनहींजातातोशायदहीइनपरकभीकार्रवाईहोपाती।फिरभीबिनामान्यताप्राप्तस्कूलोंकीलिस्टतैयारकरनेमेंपूराभेदभावकियागया।दाखिलेहोचुकेहैंशुरू,कार्रवाईहोगीकब

जिन36स्कूलोंकीलिस्टकोर्टमेंजमाकराईहैऔरजोअभीभीबिनामान्यताकेचलरहेहैंउनमेंदाखिलाप्रक्रियाशुरूहोचुकीहै।हररोजएडमिशनहोरहेहैं।हालांकिशिक्षानिदेशकएकअप्रैलसेइनस्कूलोंकोबंदकरनेकेआदेशदेचुकेहैं,परंतुअभीतकतोकिसीकोनोटिसतकनहींदियागया।ऐसेमेंबंदहोनेकेबारेमेंसोचभीनहींसकते।दाखिलेपूरेहोनेकेबादयदिस्कूलोंकोबंदभीकरदियाजाताहैतोहजारोंबच्चोंकेभविष्यकाक्याहोगा।इनबच्चोंकाहालभीवहीहोगाजोस्प्रिंगडेल्सपब्लिकस्कूलविष्णुनगरमेंपढ़नेवालेबच्चोंकाहुआहै।अभिभावकोंकोबच्चोंकेसाथसड़कपरउतरनापड़ा।

By Dawson