जागरणसंवाददाता,शिमला:50सालपहलेघनेदेवदारवबुरांसकेजंगलकेबीच22जुलाई1970कोहिमाचलप्रदेशविश्वविद्यालयशिमलाकीस्थापनाकीगईथी।इनवर्षोनेविश्वविद्यालयनेकईआयामछुएहैं।केंद्रस्थापितकिएतोविदेशीकेंद्रोंसेभीएमओयूसाइनकिए।

विश्वविद्यालनेदिनोंदिनसेवानिवृत्तहोरहेप्राध्यापकोंएवंकर्मचारियोंकीसेवानिवृत्तिउपरांतदेनदारियोंकेहस्तांतरणकेलिएकॉर्पसफंडस्थापितकियाहै।परिसरमेंसंवेदनशीलस्थानोंपरसीसीटीवीकैमरेलगाएगएहैं।इसअवधिकेदौरानविश्वविद्यालयकेमानवसंसाधनविकासकेंद्रमेंमहाविद्यालयोंमेंकईकार्यक्रमकिए।

कुलपतिआचार्यसिकंदरकुमारकामाननाहैकिवर्तमानमेंप्राप्तकिएगएएग्रेडशैक्षणिकस्तरकोबढ़ायाजाए।इसकेलिएउच्चस्तरीयसमितिगठितकीगईहै।शिक्षाजगतवउद्योगकोसाथमेंलेकरअधिकसेअधिककार्यशालाएंकीजाए।जीवविज्ञान,जैवप्रौद्योगिकी,रसायनविभाग,भौतिकीविभाग,सांख्यिकीएवंगणितऔरएमटीएमेंअनुदानआयोगविशेषसहायताकार्यक्रमप्राप्तकरनेमेंसफलतापाईहै।पहलीबारविद्यार्थी,शिक्षकएवंकर्मचारियोंकेहितोंकोध्यानमेंरखतेहुएहरवर्गकेलिएएकअधिकारपत्रतैयारकियाहै।एकलकन्याकेलिएहरदोस्थानऔरएमफिलवपीएचडीमेंदिव्यांगोंकेलिएसीटेंआरक्षितकीगईहैं।

By Dixon