दुमका:अभिभावक-शिक्षकसंगोष्ठीकीपरंपराकुछस्कूलोंमेंपहलेसेथीलेकिनइसबारइसेसभीस्कूलोंमेंअनिवार्यकरदियागया।मध्यविद्यालयकड़हरबिलमेंमुखियारीतारानीमंराडी,पूर्ववार्डपार्षदसहसमाजसेवीतरुणकुमारसाह,सीआरपीप्रमिलाटूडू,विद्यालयप्रबंधनसमितिसदस्यकेसाथ-साथकाफीसंख्यामेंअभिभावकउपस्थितहुए।कार्यक्रमकाशुभारंभबालसांसदोंकेस्वागतगानसेहुआ।

विद्यालयकेविज्ञानशिक्षकमहेशपासवाननेस्वागतभाषणमेंअभिभावकोंकास्वागतकिया।बालसांसदकेप्रधानमंत्री,शिक्षामंत्री,स्वच्छतामंत्रीनेभीअपनेविचाररखे।कईअभिभावकोंनेविद्यालयकेशिक्षकऔरखासकरप्रधानाध्यापककीप्रशंसाकरतेहुएकहाकियहविद्यालयऔरसरकारीविद्यालयोंसेबिल्कुलअलगहै।विद्यालयमेंपढ़ाईकेअलावाबच्चोंमेंसंस्कारभरेजातेहैं।मुखियानेअभिभावकोंसेअपनेबच्चोंकेप्रतिसजगरहतेहुएउन्हेंनियमितविद्यालयभेजनेकाअनुरोधकिया।

तरुणकुमारसाहानेकहाकिआपसमय-समयपरविद्यालयआकरअपनेबच्चोंकेबारेमेंजानकारीलेऔरअपनेविचारशिक्षकोंसेशेयरकरें।

प्रधानाध्यापकमनोजकुमारमिश्रनेउपस्थितअभिभावकोंसेविद्यालयमेंचलरहेकार्यक्रमोंकीविस्तारसेचर्चाकी।

कहाकिआपकेसहयोगकीआवश्यकताहै,तभीहमशिक्षकआपकेबच्चोंकीसेवाऔरमददबेहतरढंगसेकरसकेंगे।

स्वच्छतापखवाड़ाकेअंतर्गतबेहतरयोगदानदेनेवालेबच्चोंकोपुरस्कृतकियागया।

बच्चोंकोनियमितभेजेंस्कूल

संवादसूत्र,मसलिया:प्लसटूउच्चविद्यालयमसलियामेंबीडीओसंजयकुमारनेदीपप्रज्वलितकरकार्यक्रमकाशुभारंभकिया।उन्होंनेकहाकिआजकेसमयमेंसरकारीविद्यालयएवंगैरसरकारीविद्यालयमेंकाफीअंतरदेखाजारहाहै।सरकारीविद्यालयोंकेअनुपातमेंगैरसरकारीविद्यालयोंमेंछात्रोंकीउपस्थितिअधिकपायाजाताहै।इसपरसभीकोविचारकरनाहोगा।हरअभिभावककासपनाहोताहैकिउनकेबच्चेउच्चशिक्षाप्राप्तकरे।इसकेलिएअभिभावकोंकोभीअपनादायित्वपालनकरनाहोगा।हरतीनमहीनेमेंविद्यालयपहुंचकरशिक्षककेसाथएकबैठककरें।सभीअभिभावकोंसेआग्रहकरतेहुएकहाकिअपने-अपनेबच्चोंकोसमयपररोजानाविद्यालयभेजे।

विद्यालयमेंहोताबच्चोंकासर्वागीणविकास

प्लसटूउच्चविद्यालयजरमुंडीमेंविद्यालयकेवरीयशिक्षकदिवाकरप्रसादकर्महेकीअध्यक्षतामेंआओविद्यालयदेखेंदिवसउपलक्ष्यपरअभिभावकशिक्षकविचारगोष्ठीकाआयोजनकियागया।आगंतुकअतिथियोंवअभिभावकोंकेसम्मानमेंविद्यालयकेप्राचार्यप्रमोदकुमारमंडलनेकहाकिआपलोगअगरसहयोगकरतेरहेतोहमाराविद्यालयप्रखंडस्तरजिलास्तरपरहीनहींराज्यस्तरपरभीनामरोशनकरेगा।क्योंकिशिक्षाकेमाध्यमसेहीव्यक्तिमहानसेमहानपदकोप्राप्तकरसकताहै।विद्यालयहीऐसीजगहहैजहांपरबच्चोंकासर्वागिणविकाससंभवहै।अभयकांतप्रसादनेकहाकिसरकारीविद्यालयकिसीभीमामलेमेंनिजीविद्यालयोंसेकमनहींहै।प्रखंडविकासपदाधिकारीनेकहाकिमेंभीसरकारीविद्यालयमेंहीपढ़करइसपदपरआसीनहूं।अभिभावकअगरजागरूकहोगएतोवहभीअपनेबच्चोंकोउच्चसेउच्चपदपरपहुंचासकतेहैं।बासुकीनाथसिटीमैनेजरसतीशनेकहाकिस्वच्छताहीसेवाहैस्वच्छरहेंगेतोस्वस्थरहेंगेस्वस्थरहेंगेतोतभीअच्छीप्रकारसेशिक्षाग्रहणकरसकतेहैं।इसकार्यक्रममेंजागरूकअभिभावकोंनेभीअपनेविचाररखेंअभिभावकोंनेविद्यालयकाआश्वासनदियाकिहमअपनेबच्चोंकोसमयपरविद्यालयभेजेंगे।अपनेबच्चोंपरविशेषनिगरानीरखेंगे।वार्डपार्षदपांचूदासनेकहाकिव्यक्तिकीउन्नतिमेंपरिस्थितियांऔरमजबूरियांआड़ेनहींआतीछात्रअगरलगनशीलहोतोऊंचेसेऊंचेमुकामकोभीप्राप्तकरसकताहै।अध्यक्षीयभाषणमेंदिवाकरप्रसादकर्महेनेआगंतुकअतिथियोंवअभिभावकोंकाधन्यवादज्ञापनकरतेहुएकहाकिआपयहनसोंचेकिहिदीमीडियमकेबच्चेआगेनहींबढ़सकते,हिदीभाषाहमारेभारतमाताकीमस्तककीबिदीहैहमेंहिदीबोलनेमेंशर्ममहसूसनहींकरनाचाहिएबल्किगर्वमहसूसकरनीचाहिए।अंतमेंराष्ट्रगानकेद्वाराइसकार्यक्रमकीसमाप्तिकीघोषणाकीगई।इसमौकेपरविद्यालयकेछात्रछात्राओंनेस्वच्छता,पोषण,देशभक्ति,साक्षरतापरआधारितसांस्कृतिककार्यक्रमोंसेआगंतुकअभिभावकोंवअतिथियोंकामनमोहलिया।कार्यक्रमकासंचालनवेदप्रकाशशास्त्रीनेकिया।

संवादसहयोगी,सरैयाहाट:स्थानीयप्लसटूउच्चविद्यालयमेंअभिभावकएवंशिक्षकसंगोष्ठीकाआयोजनकियागया।संगोष्ठीकोसंबोधितकरबीडीओमुकेशमछुवानेकहाकिशिक्षाकेबिनाविकासकीपरिकल्पनाकरनाबेमानीहोगी।शिक्षाहीऐसीचीजहै।जिससेलोगहरक्षेत्रमेंविकासकीबुलंदियोंकोछूसकतेहैं।इसकेलिएअभिभावकोंकासहयोगजरूरीहै।आजहिदीदिवसहैजोपूरेदेशमेंमनायाजारहाहै।संगोष्ठीअभिभावककोजागरूककरेगीएवंबच्चोंकोविद्यालयभेजनेकेलिएप्रेरितकरेंगे।इसकेसाथहीउन्होंनेकहाकिइसतरहकाअभिभावकएवंशिक्षकसंगोष्ठीहरतीनमाहमेंहोनेसेविद्यालयकामाहौलउच्चकोटिकाहोगा।जिसकापरीक्षापरिणामउदाहरणबनेगा।वहींप्रखंडकेअन्यकईविद्यालयोंमेंशिक्षकएवंअभिभावककीसंगोष्ठीकाआयोजनकियागया।संगोष्ठीमेंप्रखंडबीससूत्रीअध्यक्षनीलकंठपाठकनीलेश,सेवानिवृत्तशिक्षकजगदीशराय,केदारनाथवर्णवाल,समाजसेवीभृगुनाथयादव,मतीनअंसारी,अंजयकुमारसिंह,दीपकपाठक,विद्यालयकेप्रभारीप्रधानाध्यापकबीरेंद्रकुमार,शशिकुमार,जयकिशोरमंडल,कुलदीपकुमार,बीरेंद्रपंडितआदिसहितकाफीसंख्यामेंअभिभावकउपस्थितथे।

शिक्षककीपदस्थापनासेखुशी

रानीश्वर:प्रखंडकेसभीविद्यालयोंमेंसंगोष्ठीआयोजितहुई।भारतसेवाश्रमसंघकेस्वामीप्रणवानंदविद्यामंदिरकेशिक्षक,छात्रएवंअभिभावकोंनेमिलकरपिकनिककाआयोजनकिया।उच्चविद्यालयआसनबनीमेंपूर्वमुखियाराजामरांडीनेबतायाकिपिछलेदोदशकतकउच्चविद्यालयआसनबनीमेंआयोजितकार्यक्रममेंअभिभावकएवंस्थानीयलोगनहींआतेथे।जिलाप्रशासनद्वाराहालहीमेंयहांविषयवारनौशिक्षकपदस्थापितकियाहै।जिसकोलेकरस्थानीयलोगोंमेंकाफीउत्साहहै।नोनीहाटरानीसोनावतीकुमारीप्लस2विद्यालयमेंजलसंचयन,पौधरोपणकार्यक्रमकियागया।सांस्कृतिककार्यक्रमकेतहतस्वच्छतागीतएवंदेशभक्तिगीतदिशासेन,दिशाविष्णु,समाप्रवीणवसनाप्रवीणद्वाराप्रस्तुतकियागया।गोष्ठीमेंदिशासेनकीमाताअभिभावकनेसंबोधनमेंकहाकिबच्चोंकोविद्यालयजानेकोअभिभावकप्रेरितकरेंएवंबच्चेशिक्षककोगोविदसमझें।उद्घाटनकर्ताकार्यक्रमपदाधिकारीश्यामसुंदरमोदक,जिलापरिषदसदस्यराधेश्यामकुमारनेकिया।

संवादसूत्र,चिकनियां:जामाप्रखंडकेमध्यविधालयचिकनियांउत्क्रमितमध्यविद्यालयनाचनगड़िया,प्लस2हाईस्कूलजामासहितप्रखंडकेसभीविद्यालयोंमेंअभिभावक-शिक्षकदिवसमनायागया।विद्यालयमेंपढ़नेवालेसभीबच्चोंकेअभिभावकोंकोविद्यालयमेंबुलायागया।प्रखंडविकासपदाधिकारीसाधुचरणदेवगमनेबच्चोंकाहौसलाबढ़ाया।प्रबंधनसमितिकेअध्यक्षप्रफुल्लभंडारी,प्रधानाध्यापिकाइंदूकुमारी,अभिभावकसंघकेअध्यक्षजितनमरांडी,प्रधानाध्यापकखुदीरामबेदिया,राकेशचंद्रझा,मृत्युंजयकुमारसहितअभिभावकमौजूदथे।संतटेरेसाविद्यालयमेंमुखियानिर्मलापूतुलमुर्मूनेपौधारोपणकिया।उन्होंनेकहाकिबेहतरपरिणामआएइसपरविचारकरनाचाहिए।

By Dennis