नयीदिल्ली,17मई(भाषा)प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेकहाकिसरकारद्वारारविवारकोघोषितआर्थिकप्रोत्साहनकीपांचवींऔरआखिरीकिस्तसेउद्यमशीलताकोबढ़ावामिलेगा,सार्वजनिकक्षेत्रकीइकाइयोंकोमददमिलेगीऔरगांवोंकीअर्थव्यवस्थामजबूतहोगी।उन्होंनेयहभीकहाकिइसकेभारतकेस्वास्थ्यएवंशिक्षाक्षेत्रपरपरिवर्तनकारीप्रभावहोंगे।उन्होंनेएकट्वीटमेंकहा,“राज्योंकेविकासकोभीइससेगतिमिलेगी।”सरकारनेरविवारकोघोषणाकीकिकर्जनचुकापानेकीस्थितिमेंएकसालतककोईनईदिवालियाप्रक्रियाशुरूनहींकीजाएगी।उद्योगोंपरकोविड-19काबोझकमकरनेकेउद्देश्यसेयहकदमउठायागयाहै।मोदीनेकहा,“वित्तमंत्रीद्वाराआजघोषितउपायऔरसुधारोंकाहमारेस्वास्थ्यएवंशिक्षाकेक्षेत्रपरपरिवर्तनकारीप्रभावहोगा।”उन्होंनेकहा,“इनसेउद्यमशीलताकोबढ़ावामिलेगा,सार्वजनिकक्षेत्रकीइकाइयोंकोमददमिलेगीऔरगांवोंकीअर्थव्यवस्थामजबूतहोगी।”आर्थिकप्रोत्साहनपैकेजकीपांचवींऔरआखिरीकिस्तकीघोषणाकरतेहुएवित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणनेकहाकिघरोंकोलौटरहेप्रवासीमजदूरोंकोरोजगारकेलिएमनरेगाकेतहत40,000करोड़रुपयेकाअतिरिक्तआवंटनकियागयाहै।यहबजटमेंआवंटित61,000करोड़रुपयेकीराशिकेअतिरिक्तहै।उन्होंनेकहाकिइससेकुलमिलाकर300करोड़व्यक्तिदिवसकेबराबररोजगारकासृजनहोगा।राज्योंकेलियेउन्होंनेकहाकिकेंद्रसरकारनेचालूवित्तवर्ष(2020-21)केलियेराज्योंकीकुलकर्जउठानेकीसीमाबढ़ाकरपांचप्रतिशतकरनेकीघोषणाकी।अभीतकवेराज्यकेसकलघरेलूउत्पाद(जीएसडीपी)केतीनप्रतिशततकहीबाजारसेकर्जलेसकतेथे।इसकदमसेराज्योंको4.28लाखकरोड़रुपयेकाअतिरिक्तधनउपलब्धहोगा।उन्होंनेकहाकिराज्योंकेलियेकर्जलेनेकीसीमामेंकीगयीवृद्धिविशिष्टसुधारोंसेजुड़ेहोंगे।येसुधार‘एकदेश-एकराशनकार्ड’कोअपनाने,कारोबारसुगमता,बिजलीवितरणऔरशहरीवग्रामीणनिकायोंकेराजस्वकोलेकरहैं।प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेराष्ट्रकेनामअपनेसंबोधनमेंमंगलवारकोव्यापकनएआर्थिकप्रोत्साहनोंकीघोषणाकीथी।

By Dennis