औरंगाबाद,जागरणसंवाददाता।YaasCycloneकेदौरान हुईअसमयबारिशनेकिसानोंकीपरेशानीबढ़ादीहै। औरंगाबादजिलेमेंकिसानोंको इससेकाफीनुकसानपहुंचाहै।अंबाप्रखंडकेकईगांवकेकिसानोंकागेहूं,सरसों,अरहर,सूर्यमुखीआदिफसलखलिहानमेंहीपड़ेहैं। ऐसेमेंपानीकीवजहसेफसलेंभीगगईहैं।कईकिसानोंकेफसलमेंअंकुरणहोनेलगाहै।इससेउनकेचेहरेपरमायूसीपसरगईहै।

गेहूं, सरसों,अरहरआदिकीउपजबचानेकीचिंता

बलियापंचायतकेरामपुरगांवमेंपंचमपांडेयवराजेंद्रपांडेयकीछह-छहएकड़सेकाटागयाकरीबएकहजारगेहूंकाबोझा,रामनरेशपांडेयकातीनएकड़का500बोझा,विमलेशमौआरकेपांचएकड़का800बोझा,सरयूमौआरकेचारएकड़का500बोझा,मृत्युंजयशर्माकातीनएकड़का500बोझाकाटकरखलिहानमेंरखागयाथा।बारिशकेकारणयेफसलेंसड़नेलगीहैं। इसीप्रकारसुहीगांवकेरामविलाससिंहकाएकहजारबोझागेहूं,अनुजसिंहएवंविनयसिंहका500-500बोझा,वीरेंद्रसिंहका600बोझाश्यामजीतसिंहका400बोझाएवंसुदर्शनपांडेका200बोझाखलिहानमेंरखाअरहर,सूर्यमुखी,मूँगएवंसरसोंभीगजानेसेबर्बादहोनेकीकगारपरपहुंचगयाहै।प्रखंडकेअधिकतरकिसानोंकापुआलभीखलिहानमेंहै।

किसानआवेदनकरेंतोमिलेगाअनुदान

किसानोंनेबतायाकिकोविड-19वलग्‍नशुरूहोजानेकेकारणमजदूरनहींमिले।इसकारणफसलसुरक्षितनहींकरसके।बेमौसमबारिशकाभीतोअनुमाननहींथा।किसानोंको50लाखसेअधिककानुकसानहुआहै।कुटुंबाकेसीओअभयकुमारकहतेहैंकि बेमौसमबारिशसेकिसानोंकोक्षतिहुईहै।वेआवेदनदेकरसहायताकीमांगकरसकतेहैं।राजस्वकर्मचारीकोभेजकरक्षतिकाआकलनकरायाजाएगा।अधिकारियोंसेइसकेलिएकोई निर्देशप्राप्तनहींहुआहै।जिलासेनिर्देशप्राप्तहोनेकेबादआवश्यककार्रवाईकीजाएगी।