लोहाघाट,जेएनएन:फायरसीजनशुरूहोनेसेपहलेहीवनमहकमेकीचुनौतियाबढ़गईहैं।जिलेकेअलग-अलगक्षेत्रोंमेंजहाजंगलआगसेधधकरहेहैं।वहींरविवारसुबहसेहुईबारिशसेअधिकाशवनोंकीज्वालाशातहोचुकीहै।इधरवनविभागनेभीराहतकीसासलीहै।इसबारसर्दियोंकासीजनशुरूहोतेहीलड़ीधुरा,तड़ाग,मांझूमाधुरी,सिंगदा,कोयाटी,रौजाकेजंगलआगसेधधकनेलगे,लेकिनवनमहकमातमामप्रयासोंकेबादभीजंगलोंकीआगकोनहींबुझापाया।जिसकारणवन्यजीवऔरवन्यसंपदाकोलगातारनुकसानपहुंचा।जंगलोंमेंलगीआगकेकारणजंगलीजीवभीअपनीजानबचानेकेलिएआबादीवालेइलाकोंकारूखकरनेलगेहैं।जिसकाखामियाजास्थानीयलोगोंकोभुगतनापड़रहाहै।ग्रामसभापाटनपाटनीकेझूमाधुरीकेजंगलोंमेंलगातारतीनदिनोंसेलगरहीआगपरकाबूनहींपायागया,लेकिनबारिशकेकारणरविवारकीसुबहजंगलकीआगबुझचुकीहै।

=======गर्मियोंकेफलोंकेपौधारोपणकीबाधाहुईदूर

पिथौरागढ़:शीतकालीनबारिशपहाड़मेंगर्मियोंमेंपकनेवालेफलोंकेपौधोंकेरोपणकेलिएवरदानसाबितहुईहै।

पर्वतीयक्षेत्रमेंगर्मियोंमेंहोनेवालेफलाआडृू,अखरोट,खुबानी,पुलम,लीची,आमकेपौधोंकारोपणशीतकालमेंदिसंबरमाहसेहोताहै।इसकेलिएबारिशआवश्यकहै।बारिशनहींहोनेसेइसवर्षपौधोंकारोपणनहींहोपारहाथा।उद्यानविभागकेअनुसारअभीतकजोभीपौधेरोपेगएसभीअत्यधिकपालागिरनेसेजलजारहेथे।जिसकारणपौधारोपणरोकनापड़ाथा।

जिलाउद्यानअधिकारीआरएसवर्मानेबतायाकिबारिशकेअभावमेंलगातारपालागिरनाअधिकहोगया।जिसकेचलतेविभागनेलीचीऔरआमकेपौधोंकोडंपकरदियाथा।बारिशकाइंतजारहोरहाथा।रविवारकोबारिशकेबादअबपौधरोपणहोगा।सितंबरमाहसेबारिशनहींहोनेसेइससमयतैयारमाल्टाऔरसंतरेमेंमिठासकमथीअबइनफलोंमेंभीमिठासबढ़ेगी।इधररबीकीफसलकोजीवनदानमिलचुकाहै।========

जाड़ोंमेंहोनेवालीबारिशदिसंबरअंतसेलेकरजनवरीप्रथमपखवाड़ेतकहोतीआईहै।इसबारसितंबरमाहमेंमानसूनीबारिशनहींहोनेकाप्रभावपड़चुकाथा।जलस्रोतसमयसेपहलेहीसूखनेलगेथे।नालोंकापानीकमहोरहाथा।इधरबारिशऔरहिमपातहोनाअच्छालक्षणहै।हिमपातसेजहांउच्चहिमालयमेंग्लेशियरबनेंगेवहींजल्दीनमीबननेसेअबबारिशकाक्रमभीनियमितहोगा।जोपर्यावरणीयदृष्टिसेअच्छाहै।

-धीरेंद्रजोशी,पर्यावरणविद्,पिथौरागढ़

By Dobson