कैमूर।प्रखंडकेबैजनाथगांवकेस्कूलमेंडेढ़माहसेएमडीएमबंदहै।जिसकेचलतेविद्यालयमेंपढ़नेवालीछात्रछात्राएंबिनाभोजनकिएघरलौटनेकोमजबूरहै।रामगढ़प्रखंडमुख्यालयकेपश्चिमदिशामेंअंतिमछोरपरस्थितयहविद्यालयहै।जहांबच्चोंकेपठनपाठनसेलेकरएमडीएमतककेसंचालनमेंविवादहोतारहाहै।जिसकारणछात्रछात्राओंकीमनोदशापरप्रतिकूलअसरपड़रहाहै।कईनामांकितबच्चेएमडीएमबंदहोनेकेकारणस्कूलआनाभीछोड़दिएहैं।फिरभीशिक्षाविभागकेअधिकारीइसदिशामेंकोईकठोरनिर्णयनहींलेपारहेंहैं।आठसौसेअधिकनामांकितबच्चोंमेंसेमुश्किलसेढाईसौबच्चेहीस्कूलआरहेंहैं।ऐसानहींकीविद्यालयमेंएमडीएमकीसामग्रीनहींहै।सबकुछविद्यालयकेभंडारकक्षमेंपड़ाहुआहै।संचालनमेंव्यवधानशिक्षासमितिद्वाराडालनेसेयहस्थितिहोनेकीबातबताईजारहीहै।पंचायतकेमुखियामुन्ना¨सहनेकहाकिविद्यालयकेमामलेकोपंचायतसमितिकीबैठकमेंदो-दोबारउठायागया।लेकिनआश्वासनकेअलावाआजतककुछभीनहींहासिलहोसका।लिहाजास्कूलमेंपढ़नेवालेबच्चोंकोएमडीएमनहींमिलरहाहैतथायहांकाशैक्षणिकमाहौलभीखराबहोगयाहै।इससंबंधमेंपूछेजानेपरबीईओसत्यनारायणसाहनेबतायाकिबैजनाथमध्यविद्यालयकीस्थितिकुछदिनोंसेखराबहोगईहै।विद्यालयकेसचिवएमडीएमसंचालनमेंरोड़ाअटकारहेंहैं।शीघ्रविद्यालयमेंएमडीएमसंचालितकरनेकीव्यवस्थाकीजारहीहै।

By Dawson