भोपाल,धनंजयप्रतापसिंह।केंद्रकीभाजपासरकारकेविजयरथकोरोकनेकेलिएविपक्षीगठबंधनकेताने-बानेमेंकसावटजल्दहीदिखसकतीहै।दरअसल,2024केलोकसभाचुनावमेंमहागठबंधनकोलेकरकांग्रेसदिलचस्पीदिखातेहुएमध्यप्रदेशकांग्रेसअध्यक्षवपूर्वमुख्यमंत्रीकमलनाथकोहिंदीभाषीराज्योंमेंसाथीदलोंकेसाथसमन्वयकाजिम्मासौंपसकतीहै।सूत्रोंकेमुताबिक,उन्हेंपार्टीमेंराष्ट्रीयउपाध्यक्षकापददिएजानेकीपेशकशभीकीगईहै।इससेपहलेमध्यप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीअर्जुनसिंहभीपार्टीकेराष्ट्रीयउपाध्यक्षकीजिम्मेदारीनिभाचुकेहैं।

राष्ट्रीयउपाध्यक्षबनाकरकांग्रेसहाईकमानसौंपसकताहैअन्यदलोंसेसमन्वयकीजिम्मेदारी

बंगालमेंतृणमूलकांग्रेस(टीएमसी)कीसत्ताबचानेमेंकामयाबरहींमुख्यमंत्रीममताबनर्जीभाजपाकेखिलाफमहागठबंधनकीसंभावनाओंकोबलदेरहीहैं।बीतेपखवाड़ेउनकेदिल्लीप्रवासकोइसीसेजोड़करदेखागयाथा।हालांकि,क्षेत्रीयदलोंकेबीचकांग्रेसकोलेकरसहजभावकाआकलनकियाजारहाहै।इसकेसकारात्मकहोनेपरहीमहागठबंधनकीकोशिशेंपरवानचढ़ेंगी,जिसकीजिम्मेदारीकमलनाथकोसौंपेजानेकीकाफीसंभावनाहै।कांग्रेसहाईकमानद्वाराअगलेसप्ताहसभीदलोंकेनेताओंकोदिएजारहेडिनरमेंइसकीझलकदिखाईदेसकतीहै।

इसलिएकमलनाथही

दरअसल,कमलनाथकेगैरएनडीएदलोंकेप्रमुखनेताओंसेव्यक्तिगतसंबंधहैं।शरदपवार,ममताबनर्जीजैसेउननेताओंसेभीउनकीनजदीकीरहीहै।येनेताकभीकांग्रेसमेंथे,लेकिनअबअलगपार्टीस्थापितकरचुकेहैं।वरिष्ठताकेचलतेभीकमलनाथसमन्वयकेमामलोंमेंमाहिरमानेजातेहैं।पार्टीकेराष्ट्रीयअध्यक्षपदकोलेकरअसंतुष्टनेताओंकेगुटजी-23कोभीमनानेमेंकमलनाथकीभूमिकारहीहै।इसकेअलावाउद्योगजगतमेंभीउनकीअच्छीपकड़है।

सूत्रबतातेहैंकिकमलनाथकोसमन्वयकेसाथपंजाब,बंगालकेअलावाकुछहिंदीभाषीराज्योंकाप्रभारदियाजासकताहै।मध्यप्रदेशमेंबनेरहेंगेकांग्रेसकाचेहराकेंद्रीयसंगठनऔरसंभावितमहागठबंधनमेंसमन्वयकीजिम्मेदारीकेसाथहीकमलनाथमध्यप्रदेशमेंभीकांग्रेसकाचेहराबनेरहेंगे।साथहीमध्यप्रदेशके2023केविधानसभाचुनावमेंभीपार्टीकानेतृत्वकरसकतेहैं।

मध्यप्रदेशयाकेंद्रकीराजनीतिकेसवालपरवेकईबारस्पष्टकरचुकेहैंकिवहप्रदेशनहींछोड़नेवालेहैं।2018मेंप्रदेशमेंकांग्रेसकीसरकारबनी,लेकिनवह15महीनेहीचलपाई,इसलिएवे2023मेंसत्तावापसीकेइरादेसेकांग्रेससंगठनकोनएसिरेसेमजबूतकररहेहैं।हालांकि,येभीकिसीसेछिपानहींहैकिकमलनाथसत्तागंवानेकेलिएकथितरूपसेजिम्मेदारज्योतिरादित्यसिंधियासेसियासीअदावतकाहिसाबचुकताकरनेकाइरादारखतेहैं।

कमलनाथकाकदराष्ट्रीयस्तरकाहै।निसंदेहउनकीभूमिकाराष्ट्रीयराजनीतिकोहीसमर्पितरहीहै।बावजूदइसकेवहपूरीतरहमध्यप्रदेशमेंहीरहेंगे।यहींसेराष्ट्रीयऔरप्रादेशिकराजनीतिकोसंचालितकरएकबारफिरमुख्यमंत्रीबनेंगे।

-केकेमिश्रा,महासचिव(मीडिया),मध्यप्रदेशकांग्रेस

By Daniels