इस्लामाबाद,प्रेट्र। पाकिस्ताननेभारतकेसाथलगनेवालीअपनीपूर्वीसीमाकेआसपास केहवाईक्षेत्रकोबंदरखनेकीअवधि15जूनतकबढ़ादीहै।देशकेनागरविमाननप्राधिकरण(सीएए)नेयहजानकारीदीहै।भारतीयवायुसेनाद्वाराबालाकोटमेंजैश-ए-मुहम्मदकेप्रशिक्षणशिविरपरहवाईहमलाकिएजानेकेबादपाकिस्ताननेप्रतिबंधलगादियाथा।प्रतिबंधसमाप्तकरनेकेलिएअभीतककोईद्विपक्षीयप्रगतिनहींहुईहै।

पाकिस्ताननेनईदिल्ली,बैंकाकऔरकुआलालंपुरकोछोड़अन्यसभीस्थानोंतकजानेवालीउड़ानोंकेलिएअपनाहवाईक्षेत्र27मार्चकोखोलदियाथा।पाकिस्तानने15मईकोभारततकजानेवालीउड़ानोंकेलिएअपनेहवाईक्षेत्रपरलगाएगएप्रतिबंधको30मईतकबढ़ादियाथा।

नागरविमाननप्राधिकरण(सीएए)कीओरसेएयरमैनकेलिएजारीनोटिस(नोटैम)केमुताबिक,भारतकेसाथलगनेवालीपूर्वीसीमाकेआस-पासकाहवाईक्षेत्र15जूनसुबहपांचबजेतक(स्थानीयसमानुसार)बंदरहेगा।

सीएएमकीओरसेजारीएकअलगनोटैमकेअनुसारपंजगूरहवाईक्षेत्रपश्चिमीदेशोंसेआनेवालीपारगमनउड़ानोंकेलिएखुलारहेगाक्योंकिएअरइंडियापहलेसेइसहवाईक्षेत्रकाइस्तेमालकररहीहै।पाकिस्तानने21मईकोभारतकीविदेशमंत्रीसुषमास्वराजकोकिर्गिस्‍तानकेबिश्केकमेंहुएएससीओसम्मेलनमेंशामिलहोनेकेलिएसीधेपाकिस्तानीहवाईक्षेत्रसेगुजरनेकीअनुमतिदीथी।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप