साहिबगंज:उपायुक्तकोपत्रलिखकरसोमवारकोशहरकेतालबन्नाकेरंजनकुमारपांडेनेउनकेभतीजेकेभविष्यकोअंधकारमयकरनेकाषड्यंत्ररचनेकीशिकायतकीहै।पत्रमेंउपायुक्तसेबालकल्याणसमितिकेकार्यकलापकोलेकरउचितकार्रवाईकरनेकीमांगकीगईहै।रंजनकुमारपांडेजिलाविधिकसेवाप्राधिकारएवंनगरथानाप्रभारीकोबच्चेकोबहलाफुसलाकरस्कूलसेलेजानेकीशिकायतकरचुकेहैं।साथहीबालकल्याणसमितिकोपत्रलिखकरभतीजेकोबालसुधारगृहमेंरखनेकीमांगकरचुकेहैं।प्रोविडेंसस्कूलकीओरसेभीरंजनपांडेयकेभतीजाओमनाथपांडेयके24जुलाईकेबादसेस्कूलनहींआनेकीबातकहीगईहै।हालांकिजिलाबालकल्याणपदाधिकारीनेबतायाकिकार्रवाईचलरहीहैपरंतुहकीकतयहहैकिकार्रवाईकेचक्करमेंबच्चाकरीबएकमाहसेस्कूलनहींजारहाहै।

उपायुक्तकोलिखेपत्रमेंरंजनपांडेयनेबतायाहैकिउसकेभाईअर¨वदपांडेयकेसाथअरुणपांडेकीपुत्रीकीशादीहुईथी।6सालपहलेओमनाथकीमांकादेहांतहोनेकेबादसेवहउनकेवभाईकेसाथरहकरपढ़ाईकरताथा।बादमेंओमनाथकेपिताकीमौतभीहोगई।उसकेमाता-पिताकेनहींरहनेपरवरिशवपठन-पाठनकीसारीजिम्मेदारीकईसालोंसेउनकेवसभीभाईयोंकेसहयोगसेहोताथा।परंतुउसकेमामाआकाशपांडेयउनकीअनुमतिकेबगैरस्कूलसेभतीजाको24जुलाईकोअपनेघरलेकरचलेगएहैं।इसकेबादनगरथाना,डीएलएसएकोशिकायतकीगईहै।बालकल्याणसमितिमेंवादभीचलरहाहै।परंतुउसकेमामाकीमिलीभगतसेबालकल्याणसमितिप्रभावितहोकरकार्रवाईकररहीहै।इससंबंधमेंबालकल्याणपदाधिकारीपूनमकुमारीनेबतायाकिजोभीकार्रवाईहोगी।बच्चेकेहितकोध्यानमेंरखकरकीजाएगी।