राकेशसती,नारायणबगड़:

राजकीयआदर्शप्राथमिकविद्यालयनारायणबगड़शहरकेकिसीनिजीस्कूलसेकमनहींहै।इसस्कूलमेंबच्चोंकोनकेवलखेल-खेलमेंविज्ञानऔरगणितकीशिक्षादीजारहीहै,बल्कितकनीकीजानकारीदेनेकेलिएविद्यालयकाफेसबुकपेजभीबनायागयाहै।बच्चोंकोपढ़ाईकेअलावाउनकीरुचिकेखेलभीखिलाएजारहेहैं।यहीकारणहैकिअभिभावकभीअपनेबच्चोंकोइससरकारीस्कूलमेंदाखिलाकरानेकेलिएआगेआरहेहैं।खंडशिक्षाअधिकारीखुशालसिंहटोलियाऔरतीनशिक्षकोंकेप्रयाससेयहसबसंभवहुआहै।इनचारोंनेखुदअपनेबच्चोंकादाखिलाइसीस्कूलमेंकरायाहै,जिससेअन्यअभिभावकोंनेभीप्रेरणालीहै।यहीकारणहैकिइसस्कूलमेंजहांबच्चोंकीसंख्यापहलेसिर्फ25होतीथी,वहींनएशिक्षासत्रमेंयहबढ़कर75होगईहै।

राजकीयप्राथमिकविद्यालयनारायणबगड़वर्ष2016-17मेंआदर्शविद्यालयकेरूपमेंचयनितहुआथा।शिक्षकोंनेशिक्षाकोरुचिकरबनानेकेलिएटीएलएमसहितखेल-खेलमेंविज्ञान,गणित,अंग्रेजीविषयोंकीप्रारंभिकजानकारीनौनिहालोंकोदेनीशुरूकी,लेकिनछात्रसंख्या25सेअधिकनबढ़पाईऔरसरकारकीओरसेनिश्शुल्कशिक्षा,किताबें,ड्रेसवमध्याह्नभोजनकीव्यवस्थाहोनेकेबादभीअभिभावकोंकारूझाननिजीविद्यालयकीओररहा।लेकिनजबविद्यालयकेतीनशिक्षकपुनीतसती,यमुनाप्रसादगौड़,प्रकाशटम्टासहितव्यापारीजगदीश,मनोजसतीऔरअन्यअभिभावकोंनेनिर्णयलियाकिवेअपनेपाल्योंकाप्रवेशकिसीमहंगेनिजीस्कूलमेंनकरतेहुएअपनेहीक्षेत्रकेविद्यालयमेंकरेंगे,तोअन्यअभिभावकोंकाभीरूझानबढ़ा।

विद्यालयकेसहायकअध्यापकयमुनाप्रसादगौड़नेबतायाकिसरकारीस्कूलोंकीस्थितितभीबदलसकतीहै,जबहमगुणवत्तायुक्तशिक्षणकेसाथ-साथअपनेपाल्योंकोभीवहांपढ़ाएं।इससोचकेसाथहमनेअपनेपाल्योंकाप्रवेशविद्यालयमेंकिया।बतायाकिछात्रोंकेसवरंगीणविकासकेलिएपढ़ाईकेसाथ-साथउन्हेंकम्प्यूटर,संगीत,खेलकूद,वाद-विवादवअंग्रेजीभाषाकाअध्यापनकरायाजारहाहै,जिससेलगातारछात्रसंख्याबढ़रहीहै।अध्यापकयमुनाप्रसादगौड़नेविद्यालयकाफेसबुकपेजवयूटूबचैनलभीबनायाहैऔरबदलतेशिक्षाव्यवस्थाकेआधुनिकयुगमेंयहप्रयोगअभिभावकोंकेसाथनौनिहालोंकोभीरासआरहाहै।

इसस्कूलमेंहैंछहशिक्षक

नारायणबगड़स्थितआदर्शप्राथमिकविद्यालयमेंवर्तमानमेंछहअध्यापकहैं,जोशिक्षाकोरूचिकरबनानेकेसाथगुणवत्तापरकशिक्षादेनेकाप्रयासकियाजारहाहै,ताकिछात्र-छात्राओंकासर्वांगीणविकासहोवसभीअभिभावकोंकारूझानसरकारीस्कूलोंकेप्रतिबढे़।वहींविद्यालयकोकंप्यूटरसुविधासेजोड़ागयाहै,जिससेतकनीकिशिक्षाकीजानकारीबच्चोंकोमिलसके।

प्रभारीप्रधानाचार्यपुनीतसती,राजकीयआदर्शप्राथमिकविद्यालय,नारायणबगड़

-----------------खुदशिक्षकजबअपनेपाल्योंकोसरकारीस्कूलमेंदाखिलाकराएंगेतोनिश्चितरूपसेइनस्कूलोंमेंशिक्षाकास्तरबढ़ेगा।इसीसोचकेसाथउन्होंनेअपनेबच्चेकादाखिलासरकारीस्कूलमेंकरायाहै।

खुशालसिंहटोलिया,खंडशिक्षाअधिकारीनारायणबगड़

By Davies