अवधेशपाण्डेय,कौशांबी

मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेगौतमबुद्धकीसाधनास्थलीकौशांबीखासकेकोसमखिराजगांवसेस्कूलचलोएवंटीकाकरणअभियानकाश्रीगणेशबुधवारकोअनोखेढंगसेकिया।चूंकिवेगोरक्षधामकेपीठाधीश्वरभीहैं,इसलिएअभियानकाशुभारंभसंस्कृतकेश्लोकऔरपांचबच्चोंकेअन्नप्राशन(नवजातकोपोषणयुक्तभोजन)सेकिया।कहाकिइसीधरतीसेभगवानबुद्धनेछठवांवनौवांचातुर्मासकियाथा,ऐसेमेंमोबाइलटीकाकरणअभियानकेशुरुआतकेलिएइससेअच्छास्थानऔरक्याहोसकताथा।मुख्यमंत्रीनेपांचबच्चोंकेकंधेपरस्कूलबैगटांगाऔरपांचनौनिहालोंकोविटामिनकीखुराकभीपिलाई।

मुख्यमंत्रीनेशुभारंभसमारोहमेंकहाकिशास्त्रोंमेंविद्यादानकोसबसेबड़ादानमानागयाहै,जबकिज्ञानदानकरनासबसेबड़ापुण्यहैऔरइसकेवाहकगुरुजनबनेहैं।बेसिकशिक्षापरिषदकेस्कूलोंमें1.54करोड़बच्चेशिक्षाअर्जितकररहेहैं।इसवर्षइसे1.60करोड़करनाहै।सरकारकासंकल्पहैकिबच्चोंकोएनसीआरटीकीतर्जपरआधुनिकशिक्षामिले,साथहीवेसंस्कारवानभीबनें।इसीलिएकार्यक्रमकोसाधनास्थलीसेजोड़ा।उन्होंनेस्मरणकरायाकिस्कूलचलोअभियानकाशुभारंभदोअप्रैलकोबुद्धस्थलीसिद्धार्थनगरसेकरनाभीइसीमकसदकाहिस्साथा।अबसरकारकीइनयोजनाओंमेंहरगांव,हरघरअपनेबेटा-बेटीमेंबिनाकोईभेदभावकिएउन्हेंस्वस्थबनाकरसुशिक्षितसमाजकीप्रधानमंत्रीकीमुहिममेंजुडे।मुख्यमंत्रीनेस्वच्छताअभियानमेंघर-घरशौचालय,आवासयोजना,पेंशनयोजनाकाजिक्रकरतेहुएप्रधानमंत्रीकेप्रयासोंकोभीगिनाया।साथहीयोजनाओंकोजरूरतमंदोंतकबिनाकिसीभेदभावकेपहुंचानेकेलिएप्रशासनिकअफसरोंकोजनप्रतिनिधियोंकेसाथमिलकरकामकरनेकीसीखदी।कुपोषणकेखात्मेकेलिएबालपुष्टाहारकावितरणभीप्रशासनकीप्राथमिकतामेंहोनाचाहिए।

By Daniels