लखनऊ.मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथ(CMYogiAdityanath)नेभ्रष्टाचारमुक्तव्यवस्थादेनेकेलिएडायरेक्टबेनिफिटट्रांसफर(डीबीटी)तकनीककाप्रयोगकरकेबेसिकस्कूल(BasicSchool)के1.80करोड़छात्रोंकेअभिभावकोंकेखातेमें90.80अरबरुपयेभेजेहैंताकिवेबच्चोंकेलिए यूनीफार्म,जूते-मोजेखरीदसकें.60लाखशेषबच्चोंकेकहतेमेंभीजल्दपैसेट्रांसफरकिएजाएंगे.अबशिक्षकोंकोयहतयकरनाहोगाकिबच्चेइनपैसोंसेयूनीफार्म,जूते-मोजेऔरबैग-बुक्सकेसाथस्कूलआएं.मुख्यमंत्रीनेकहाकिजोबच्चेइसकापालननकरेंउनकेअभिभावकोंसेसंपर्ककरकेव्यवस्थाकोमजबूतकरनेकाकामकरें.बेसिकस्कूलोंकेछात्रोंकोसामान्यशिष्टाचारवसाफ-सफाईकोभीसिखायाजाए,क्योंकिसंस्कारहीनशिक्षाकभीभीराष्ट्रप्रेमऔरराष्ट्रद्रोहमेंअंतरनहींकरपाएगी.प्रदेशमेंछहलाखसेअधिकशिक्षक,अनुदेशक,शिक्षामित्रहैं,अगरयहजिम्मेदारीउठाएंगेतोयहसपनाभीसंभवहोसकताहै.

मुख्यमंत्रीनेकहाकिसरकारनेयहतयकियाकिएक-एकविद्यालयकोजनप्रतिनिधिगोदलें,जिससेबेसिकशिक्षाकेछात्रोंकोस्वच्छपेयजलसमेतअन्यबुनियादीसुविधाएंमिलसकें।इसकेतहतअभीतकबेसिकशिक्षाकेएकलाख60विद्यालयोंमेंसेएकलाख33हजारविद्यालयोंकोइसयोजनामेंशामिलकियाजाचुकाहै,जिनमेंखेलमैदान,बाउंड्रीवालकानिर्माणहोचुकाहै.अभीतकसाढ़ेचारवर्षोंमेंहरस्कूलीबच्चेकोदोयूनीफार्म,बैग-बुक्ससफलतापूर्वकउपलब्धकरायागया.बेसिकशिक्षामेंअध्ययनकरनेवालेबच्चोंकोजूतेऔरमोजेभीदिएगए.बहुतसारेबच्चेभीषणठंडमेंबिनास्वेटरकेस्कूलआतेथे.उन्हेंस्वेटरउपलब्धकराएगए.इसव्यवस्थामेंकपड़ोंकीगुणवत्ताऔरसमयपरसवालखड़ेहोतेथे.ऐसेमेंसरकारनेयहतयकियाकिअभिभावकोंकोसीधेपैसादियाजाए,जिससेवहअच्छेकपड़ेऔरजूतेमोजेखरीदसकेंऔरशिक्षाविभागपरजोभ्रष्टाचारकाआरोपलगताहैउससेभीबचाजासके.ऐसेमें11सौरुपयेएककरोड़80लाखछात्र-छात्राओंकेअभिभावकोंकेखातेमेंदीजारहीहै.अभीलगभग60लाखबच्चेजोबचेहुएहैंउनकेअभिभावकोंकेबैंकखातोंकीजांचकार्रवाईकीजारहीहै.जल्दहीउनकेभीखातेमेंपैसाट्रांसफरकरदियाजाएगा.यहखुशीकीबातहैकिजुलाई2017मेंएककरोड़30लाखबच्चेस्कूलआरहेथे.सरकारकेप्रयाससे2020केप्रारम्भमेंयानीतीनवर्षमेंहीएककरोड़81लाखपहुंचगई.

आजबेसिकस्कूलोंकीबदलीतस्वीर

मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकिअबबेसिकशिक्षापरिषदकेविद्यालयसबसेअलगदिखाईदेतेहैं.स्कूलोंकीसाज-सज्जा,सफाईबहुतअच्छीहोगईहै,साथहीबच्चेयूनीफार्म,जूतेपहनकरस्कूलपहुंचतेहैं.अबयहधनराशिअभिभावकोंकेखातेमेंपहुंचनेसेशासनकीमंशानुरूपकपड़े,किताबेंसभीसमयपरऔरसहीतरीकेसेपहुंचपाएंगे.सरकारकायहकदमभ्रष्टाचारमुक्तव्यवस्थाकेसाथ-साथसमयपरलागूहोसकेगा.उन्होंनेबतायाकिवहगोरखपुरकेबनटंगियागांवगएथे.वहांचारवर्षपहलेकोईभीस्कूलनहींथा.हमलोगधार्मिकसंस्थाकेसाथमिलकरएकस्कूलचलारहेथे,लेकिनअभीकुछदिनपहलेजबहमवहांगएतोएकअच्छाबेसिकस्कूलचलरहाथा.वहांस्मार्टकक्षाएंचलाईजारहीथीं.वहांकेबच्चेकैसेस्मार्टहोनेकीगवाहीदेरहेथे,यहदेखनेयोग्यथा.कुछदिनपहलेइसीतरहचित्रकूटजाकरदेखा,वहांइंडियनआयलकेसहयोगसेस्मार्टकक्षाएंचलरहीथीं.इसतरहकीकक्षाएंबच्चोंकेजीवनमेंअच्छाअसरडालरहीहैं.350सेअधिककस्तूरबाविद्यालयमेंआठवींतकपढ़रहीछात्राओंकोउन्हींस्कूलोंमें12वींतककीशिक्षादीजारहीहै.

यूपीनंबरएकपर

वर्ष17-18मेंउत्तरप्रदेशजहांबहुतपीछेहुआकरताथा,वहींतीनवर्षबादहीनम्बरएकस्थानपरआगया.आपरेशनकायाकल्प,मिशनप्रेरणायातकनीककाउपयोगकरतेहुएइसेऔरआगेबढ़ायाजासकताहै.प्रदेशकीशिक्षाव्यवस्थादुरुस्तहोसकेइसकेलिएडेढ़लाखशिक्षकोंकीभर्तीकीजाचुकीहै.इनशिक्षकोंकीभर्तीमेंपूरीतरहसेपारदर्शितारखीगई.19अरब80करोड़रुपयेबेसिकस्कूलकेबच्चोंकोसीधेभेजा।

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:CMYogiAdityanath,Lucknownews,UPnews,Upnewsinhindi

By Dawson