नयीदिल्ली,12जनवरी(भाषा)दिल्लीविकासप्राधिकरणनेमंगलवारकोउच्चतमन्यायालयकेनिर्देशपर2019मेंशहरीनिकायद्वाराढहाएगएगुरुरविदासमंदिरकीनईइमारतकेलियेउसकेद्वाराआवंटितकीगईजमीनकेभू-उपयोगमेंबदलावकोमंजूरीदीहै।अधिकारियोंनेकहाकिनईइमारतजहांपनाहसिटीफॉरेस्टक्षेत्रमेंबनेगी।दिल्लीविकासप्राधिकरणद्वारास्वीकृतभूमि“उसीजगहपर”आवंटितकीगईहैजहांदक्षिणदिल्लीकेवनक्षेत्रमेंपुरानीइमारतस्थितथी।डीडीएकेशीर्षनिर्णायकनिकायअथॉरिटीनेएकडिजिटलबैठककेदौरानआवंटितकीगई400वर्गमीटरजमीनकेभू-उपयोगकोबदलनेकेफैसलेकोमंजूरीदी।बैठककीअध्यक्षताउपराज्यपाल(एलजी)अनिलबैजलनेकीजोइसशहरीनिकायकेप्रमुखभीहैं।पिछलेसालअक्टूबरमेंडीडीएनेभूखंडकेआवंटनकेप्रस्तावकोमंजूरीदीथीऔरभू-उपयोगमेंबदलावकीसिफारिशभीकीथी।भू-उपयोगमेंबदलावकोमंजूरीमिलनेकेबादअबइसेअंतिमअधिसूचनाकेलियेकेंद्रीयशहरीएवंआवासमंत्रालयकेपासभेजाजाएगा।एलजीकेदफ्तरकीतरफसेबैठकमेंहुएफैसलोंकोलेकरट्वीटकियागया।ट्वीटमेंकहागया,“आईएलबीएसअस्पतालमेंसुविधाओंकेविस्तारऔरधार्मिकउद्देश्यकेलियेजहांपनाहसिटीफॉरेस्टमेंसंतगुरुरविदासजीमंदिरकेभू-उपयोगमेंबदलावकेप्रस्तावोंकोमंजूरीदीगई।”

By Dale