शोएबरजा,नईदिल्लीःराजधानीदिल्लीमेंअरविंदकेजरीवालकीसरकारदावाकरतीहैकिउसनेपिछले4सालोंमेंस्कूलीशिक्षाकीपूरीदशाहीबदलदी.स्कूलोंकीनईबिल्डिंगबनीहै,तोवहीस्कूलोंकारिजल्टभीबहुतबेहतरहुआहै,लेकिनपूर्वीदिल्लीकेहीमुस्तफाबादइलाकेकाराजकीयउच्चमाध्यमिकबालिका/बालकविद्यालयइनतमामदावोंकीपोलखोलकररखदेताहै.येस्कूलआजभीटेंटमेंचलताहैऔरयहांचारशिफ्टलगाकरबच्चोंकोशिक्षादीजारहीहै.सुबहसेलेकरदोहपर1बजेतकयहांदोअलगअलगशिफ्टमेंछात्राओंकोपढ़ायाजाताहै,वहीं1बजेकेबादसेशामतकदोअलगअलगशिफ्टमेंछात्रोंकोशिक्षादीजातीहै.

शोएबरजा,नईदिल्लीः

इसतरहसेएकशिफ्टकेछात्र-छात्राओंकेहिस्सेमहज़दोसेढाईघण्टेहीआपातेहै.येइलाकाअल्पसंख्यकआबादीवालाइलाकाहैऔरइसस्कूलमेंकरीब80फीसदसेज्यादाबच्चेअल्पसंख्यकसमुदायकेपढ़तेहै.करीबदोदशकपहलेबनायेस्कूलआजबदइंतजामीऔरबदहालीकीऐसीदास्तांबयानकरताहै,किदेखकरहीहैरतहोतीहैकिराजधानीदिल्लीमेंऐसेकिसीस्कूलकेहालातहोसकतेहै.

स्कूलकीनाकोईइमारतहैनाहीपक्कीछत.बच्चेटेंटमेंबैठकरपढ़ाईकरतेहैं.सर्दियोंमेंयहांपढ़नेवालेबच्चेठिठुरतेहैतोदिल्लीकीगर्मीसेकईबारछात्र-छात्राएंबेहोशतकहोजातीहै.स्कूलकेचारोंतरफगंदगीकाऐसाअंबारहै,किदेखकरकोईअंदाजातकनहींलगासकताकियहांकोईस्कूलभीचलताहै.सारेमुहल्लेकेलोगस्कूलटेंटकीपीछेकीदीवारपरकूड़ाडालतेहै,औरयहांबनीक्लॉसरुमकीखिडकियोंसेयेसाराकूड़ाक्लासरूममेंजाताहै.

मुस्तफाबादकेसामाजिककार्यकर्ताअमजदअंसारीकहतेहै,किइसस्कूलकोलेकरवोअपनीआवाज़हरअधिकारीतकपहुंचाचुकेहैं,यहांतककिदिल्लीकेउपमुख्यमंत्रीमनीषसिसोदियाकोईमेलऔरख़तलिखकरभीसूचितकियागयालेकिनकोईकार्रवाईनहींहुई.अमजदबतातेहैकिस्कुलनकदसवींक्लासकारिजल्टभीमहज20प्रतिशततकरहताहै.

इसस्कूलमेंपढ़ाईकरचुकेएकपूर्वछात्रनेबतायाकिपहलेयहांएकदिनएकक्लासकेबच्चोंकोस्कूलबुलायाजाताथा,औरदूसरीक्लासकेबच्चोंकीछुट्टीरहतीथी,लेकिनअबचारशिफ्टोंमेंछात्र-छात्राओंकोपढ़ायाजारहाहै,जोसहीनहीं.

इसस्कूलकोलेकरनातोप्रिंसिपलऔरनाहीशिक्षाविभागकेअधिकारीबातकरतेहै,औरहीकोईसंतोषजनकजवाबदेपातेहै.इलाकेकेलोगकहतेहैकिपहलेयहांअधिकारीकोर्टकचहरीकीबातकहकरस्कूलकोपक्कानाकरनेकीबातकहतेहैलेकिनवोमुद्दाभीसुलझगया,फिरभीस्कूलकोपक्कीछतनसीबनहींहुई.राजधानीदिल्लीकेकिसीस्कूलमेंअगरयेहालातहोतोयक़ीननसरकारकेलिएइससेज्यादाशर्मिंदगीनहींहोसकती.दिल्लीसरकारकोइससिलसिलेमेंकड़ाऔरबड़ाकदमउठानेकीजरूरतहै.

By Dobson