दरभंगा,जासं।जिलेकेलगभगसभीप्रखंडमेंपिछले48घंटोंसेतेजहवाकेसाथहुईबारिशसेखेतोंमेंतैयारधानकीफसलबर्बादहोगईहै।खेतोंमेंलगीधानकीफसलपानीमेंतैरनेलगी।साथहीखेतोंमेंजलजमावसेतमामकिसानोंकेसब्जीकीफसलबर्बादहोगईहै,किसानमायूसहैं।प्रभावितकिसानोंनेसरकारसेबर्बादहुईफसलोंकासर्वेकराकरमुआवजालाभदिलानेकीगुहारलगाईहै।

इससालसमय-समयपरबारिशहोनेकेचलतेकिसानोंकेखेतोंमेंधानकीफसलकाफीअच्छीथी।खेतोंमेंलहलहातीफसलकोदेखकरकिसानकाफीखुशथे।मगर,मौसमनेअचानककरवटलीऔरतेजहवाकेसाथहुईबारिशनेकिसानोंकीच‍िंंताबढ़ादीहै।हवाकेझोंकोबीचहुईबारिशसेअधिकतरकिसानोंकीधानकीफसलेंजमीनपरगिरगईहैं।खेतोंमेंगिरीफसलकेबालियोंपरपानीतैररहाहै।जिससेफसलोंकेसडऩेकीआशंकाबढ़गईहै।उधरखेतोंमेंजलजमावहोनेसेसब्जियोंकीफसलबर्बादहोरहीहै।जिलेकेजाले,बेनीपुर,बिरौल,घनश्यामपुर,स‍िंहवाड़ा,कमतौल,अलीनगर,हनुमाननगर,बहादुरपुर,केवटीआदिक्षेत्रोंकेकिसानोंकीधानकीफसलखेतोंमेंगिरहुएहैं।

बारिशकेपानीमेंडूबाडीएमसीएच,इमरजेंसीसमेतकईविभागरहेटापूमेंतब्दील

भीषणबारिशकेकारणदरभंगामेडिकलकालेज,अस्पतालपरिसरटापूमेंतब्दीलहोगया।मरीज,उनकेस्वजन,डॉक्टरऔरनर्सकेअलावाअन्यकर्मचारियोंकोआनेजानेमेंभारीपरेशानीहोरहीहै।औषधिविभागऔरप्राचार्यकार्यालयपरिसरकापानीपंपसेटसेनिकालाजारहाहै।वहींरुकरुककेबारिशहोनेसेफिरजल-जमावहोजारहाहै।डॉक्टर,नर्सएवंकर्मचारीसभीपानीभरजानेकेकारणपरेशानदिखे।डेढ़सेदोफीटपानीजमाहोनेकेकारणट्रॉलीसेमरीजकोलेजानेमेंकाफीपरेशानीहोरहीहै।वहींनगरनिगमइससमस्याकेप्रतिसंजीदानहींहै।नाकानंबरछहसेलेकरकर्पूरीचौकतकअस्पतालकोजानेवालीमुख्यसड़कपानीसेलबालबभरीहुईहै।सड़कमेंगड्ढेबनजानेकेकारणआएदिनलोगहादसोंकेशिकारहोरहेहैं।

By Day