रांची,जासं।HemantSorenगर्मीबेतहाशाबढ़रहीहै।ऐसेमेंस्कूलबसोंकोएंबुलेंसकीतरहरास्तामिले,ताकिछोटेबच्चोंकोजल्दघरपहुंचनेमेंसुविधाहो।इससंबंधमेंजल्दहीसरकारनिर्णयलेगी।आमलोगोंकोभीइसविषयपरविचारकरस्कूलबसोंकोरास्तादेनेकाप्रयासकरनाचाहिए।मुख्यमंत्रीहेमंतसोरेननेरांचीमेंसंतजेवियरस्कूलकीस्थापनाके62वर्षपूरेहोनेपरडायमंडजुबलीकार्यक्रममेंयहबातेंकहीं।

अपनेसंबोधनकेदौरानसीएमहेमंतसोरेननेकहाकिशिक्षाकोलेकरमेरीचिंताबनीरहतीहै।राज्यकीजिम्मेवारीहमारेऊपरहै।झारखंडकेलिएशिक्षाबहुतहीमहत्वपूर्णविषयोंमेंएकहै।राज्यअगरशिक्षाकेक्षेत्रमेंकहींविशेषजगहबनाताहैतोइसमेंऐसीसंस्थाओंकाबहुतबड़ायोगदानहै।हमलोगोंनेदोवर्षतककठिनदौरकोदेखाहै।दोवर्षकीकमीकोपूराकरनेकाप्रयासकरेंगे।

झारखंडमेंशिक्षाक्षेत्रमेंमिशनरियोंकीमहतीभूमिकाहै:सीएम

सीएमहेमंतसोरेननेकहाकिझारखंडमेंशिक्षाक्षेत्रमेंजोकुछभीबेहतरदिखरहाहैउसमेंमिशनरियोंकीमहतीभूमिकाहै।मेरेबच्चेभीइसीस्कूलमेंपढ़तेहैं।ऐसेमेंआजइसकार्यक्रममेंमुख्यअतिथिकेसाथ-साथअभिभावककीभूमिकामेंभीखुदकोपाताहूं।संतजेवियरस्कूलकामैनेजमेंटऔरशिक्षाव्यवस्थासेविशेषलगावहै।बीआइटीजैसेबेहतरीनसंस्थानमेंउन्हेंपढ़नेकामौकामिला,लेकिनयहांकाइंफ्रास्ट्रक्चरऔरभीउत्तमहै।60वर्षसेऊपरकेसफरमेंकईउतार-चढ़ावभीस्कूलनेदेखेहैं।आजभीउसीउत्साह,ताकतऔरक्षमताकेसाथस्कूलदिशातयकररहाहै।फादरअजीतखेसकीभूमिकासिर्फकैंपसकेआसपासनहींबल्किउनकीदूरदर्शिताकईमायनोंमेंखासहै।स्कूलकाप्रयाससदैवआगेबढऩेकारहाहै।संस्थानइसीतरहशिक्षाकेक्षेत्रमेंउपलब्धिहासिलकरतेरहे,यहीकामनाहै।

सीएमकेदोनोंपुत्रयहींपढ़ते

सीएमहेमंतसोरेनकेदोनोंबेटेसंतजेवियरस्कूलमेंहीपढ़ाईकररहेहैं।बड़ाबेटाआठवींक्लासमेंजबकिछोटाबेटातीसरीक्लासमेंपढ़ताहै।कार्यक्रमकेदौरानसीएमकेसाथउनकेछोटेबेटेसाथथे।संतजेवियरस्कूलकेडायमंडजुबलीब्लाककामुख्यमंत्रीहेमंतसोरेननेउद्घाटनभीकिया।इसअवसरपरखूंटीकेबिशपविनयकंडुलना,फादरअजीतखेससहितस्कूलकेप्राचार्य,शिक्षकवकईअभिभावकमौजूदथे।