संवादसहयोगी,महेंद्रगढ़:

हरियाणाकेंद्रीयविश्वविद्यालयमहेंद्रगढ़औरहरियाणाअंतरिक्षअनुप्रयोगकेंद्र(हरसैक),हिसारजियो-इफोर्मेटिकटैक्नोलाजीकेक्षेत्रमेंअबमिलकरशिक्षण,अनुसंधानऔरप्रशिक्षणकार्यक्रमकेक्षेत्रमेंकरेंगे।दोनोंहीसंस्थानोंनेइससंबंधमेंआपसीसाझेदारीहेतुशुक्रवारकोएकसमझौताज्ञापन(एमओयू)परहस्ताक्षरकिए।समझौताज्ञापनपरहरियाणाकेंद्रीयविश्वविद्यालयकीओरसेकुलसचिव,प्रो.सारिकाशर्मानेऔरहरियाणाअंतरिक्षअनुप्रयोगकेंद्र(हरसैक)कीओरसेनिदेशकडा.वीएसआर्यनेहस्ताक्षरकिए।इसअवसरपरहरियाणाकेंद्रीयविश्वविद्यालयकेकुलपतिप्रो.टंकेश्वरकुमारनेकहाकिइसआपसीसांझेदारीकाउद्देश्यजियो-इंफोर्मेटिकटैक्नोलाजीकेक्षेत्रमेंएकसाथमिलकर,एकमंचपरआकरशिक्षण,अनुसंधानवप्रशिक्षणकेलिएआवश्यकप्रयासकरनाहै।प्रो.टंकेश्वरकुमारनेकहाकिअवश्यहीइसप्रयासकेमाध्यमसेदोनोंसंगठनमिलकरइसक्षेत्रमेंनएबदलावोंकामार्गप्रशस्तकरेंगे।इसप्रयासकेमाध्यमसे,भू-सूचनाविज्ञान,फील्डट्रेनिग,विद्यार्थियोंकेलिएइंटर्नशिपऔरप्लेसमेंट,कौशलविकासकार्यक्रम,विशेषज्ञव्याख्यानऔरसंकायविकासकार्यक्रमोंकेक्षेत्रमेंनवीनतमरुझानोंकेअनुसारबेहतरपाठ्यक्रमडिजाइनकाकार्यकियाजाएगा।हरसैककेनिदेशकडा.वीएसआर्यनेइसअवसरपरकहाकिइसआपसीकरारकेमाध्यमसेविभिन्नविभागोंकेविद्यार्थियोंमेंरिमोटसेंसिगऔरजीआइएसप्रौद्योगिकीकेअनुप्रयोगऔरदक्षताकेप्रतिजागरूकतापैदाकीजाएगी।विश्वविद्यालयमेंट्रेनिगएंडप्लेसमेंटसेलकेउपनिदेशकवभूगोलविभागमेंसहायकआचार्यडा.जितेंद्रकुमारनेबतायाकिजियो-इंफोर्मेटिकटेक्नोलाजीआजहमारीदैनिकगतिविधियोंमेंमहत्वपूर्णभूमिकानिभातीनजरआरहीहैऔरउपयोगकीजानेवालीविभिन्नप्रणालियोंवतकनीकोंमेंइसकाउपयोगहोरहाहै।इसतकनीककाशहरीनियोजन,मौसमपूर्वानुमान,यातायातनेविगेशन,रूटमैपिगसेलेकरआनलाइनडिलीवरीऐप्सतकहरगतिविधिमेंउपयोगहोरहाहै।ऐसेमेंदोनोंसंगठनसंयुक्तरूपसेसंगोष्ठी,सम्मेलन,कार्यशाला,अल्पकालिकप्रशिक्षणकार्यक्रम,व्याख्यानआदिकेमाध्यमसेविद्यार्थियोंकोइसतकनीककीजानकारीउपलब्धकरायेंगे।इससमझौताज्ञापनपरहस्ताक्षरकेलिएविश्वविद्यालयकेसम्मेलनकक्षमेंआयोजितकार्यक्रममेंकुलसचिव,प्रो.सारिकाशर्मा,स्कूलऑफबेसिकसाइंसेजकेडीनप्रो.विनोदकुमार,ट्रेनिगएंडप्लेसमेंटसेलकेनिदेशकप्रो.विकासगर्ग,हरसैकसेडा.अनूपकुमारऔरडा.रितेशसहितभूगोलविभागकेशिक्षकप्रभारीडा.मनीषकुमारवसहायकआचार्यडा.खेराजभीउपस्थितरहे।

By Dennis