बुलंदशहर,जेएनएन।कौनकहताहैआसमांमेंछेदनहींहोताएकपत्थरतोतबितयतसेउछालोयारो.येलाइनेंजिलेकेउनमेधावियोंपरसटीकबैठतीहैं,जिन्होंनेअपनीकड़ीमेहनतऔरलगनकेदमपरइंटमीडिएटकीपरीक्षामेंसफलताकाकीर्तिमानस्थापितकिया।बिनाकोचिगकेस्वयंकीमेहनतसेस्कूलऔरजिलाटॉपकरनेवालेमेधावीभविष्यमेंभीकुछअलगकरनेकासपनारखतेहैं।अधिकांशटॉपर्सआइएएसऔरइंजीनियरबनाकरमाता-पिताकाऔरअपनानामचमकानाचाहतेहैं।सीबीएसईकीसफलताकीकहानीउन्हींकीजुबानी..आइएएसबननाचाहताहैजिलाटॉपरतुषारसिंह

-हयूमैनिटिजवर्गमेंजिलाटॉपकरनेवालेदिल्लीपब्लिकस्कूलकेतुषारसिंहयमुनापुरमकेरहनेवालेहैं।पढ़ाईमेंइनकीमददइनकेपिताएनआरईसीडिग्रीकालेजकेप्रोफेसरओमप्रकाशसिंहनेकी।शतप्रतिशतअंकप्राप्तकरनेवालेइसछात्रनेकालेजकेअलावानियमितछहघंटेपढ़ाईकी।कक्षा11मेंतोइन्होंनेकुछदिनकोचिगलीभीथीलेकिन12वींमेंएकभीदिनकोचिगनहींकी।बसस्वयंमेहनतकरतेरहे।इन्होंनेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेसभीगुरुजनोंऔरअपनेमाता-पिताकोदियाहै।इंटरमीडिएटटॉपकरनेकेबादअबतुषारसिंहकीलक्ष्यआइएएसअफसरबननेकीतरफलगगयाहै।मेधावीनेबतायाकिवहदेशकीसबसेबड़ीप्रशासनिकसेवामेंअफसरबनकरलोगोंकीसेवाकरनाहै।फोटो:58,आदित्ययादवकाआइआइटीकरइंजीनियरबननेकासपना

सीबीएसईसांइसवर्गमें98.4प्रतिशतअंकप्राप्तकरजिलेमेंस्थानप्राप्तकरनेवालेआदित्ययादवकासपनाआईआईटीकरइंजीनियरबननाहै।नगरकेन्यूलेंसरकांवेटस्कूलकेछात्रआदित्यएसडीएमकालोनीमेंरहतेहैं।उन्होंनेबतायाकिपिताअनिलकुमारबिजनेसमैनहै,जबकिमांविनितासरकारीस्कूलमेंशिक्षिकाहै।आदित्यनेअपनीसफलताकाश्रेयदिल्लीयूनिवर्सिटीसेबीएसईकररहीबड़ीबहनआदितीवस्कूलकीप्रधानाचार्यवृंदाशर्माकोदिया।आदित्यकोघरबधाईदेनेवालोंकातांतालगाहुआहै।परिवारमेंखुशीकामाहौलहै।बुलकुर-31.इंजीनियरबननाचाहतीहैंभव्याअग्रवाल

खुर्जा:नगरकीपीलीकोठीनिवासीमहाराजाअग्रसेनपब्लिकस्कूलकीछात्राभव्याअग्रवालनेइंटरमीडिएटसाइंसवर्गमें99.2प्रतिशतअंकप्राप्तकरकेजनपदटॉपकियाहै।जिसकीजानकारीहोनेपरभव्याकेस्वजनोंनेउन्हेंमिठाईखिलातेहुएबधाईदी।वहींभव्याअग्रवालनेबतायाकिवहआगेबीटेककरकेइंजीनियरबनकरदेशकीसेवाकरनाचाहतीहैं।इसकेलिएउन्होंनेशुरूसेहीप्लानिगकरलीथी।साथहीउन्होंनेबतायाकिवहप्रतिदिनछहघंटेपढ़ाईकरतीथींऔरपेपरोंकेसमयमेंदसघंटेतकउन्होंनेपढ़ाईकीहै।भव्यानेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेपिताआशीषअग्रवालऔरमांकवितासमेतगुरुजनोंकोदियाहै।भव्याकेपिताकपड़ाव्यापारीहैं।बुलकुर-32..

आईएएसआफिसरबनसेवाकरनाचाहतीहैंतरुशीबंसल

खुर्जा:किशनघाटनवलपुरानिवासीपॉटरीव्यवसाईसंजीवबंसलकीपुत्रीतरुशीबंसलनेजनपदमेंसंयुक्तरूपसे98.2अंकप्राप्तकरकेतीसरास्थानप्राप्तकिया।वहनगरकेमहाराजाअग्रसेनपब्लिकस्कूलकीछात्राहैं।तरूशीबंसलनेबतायाकिवहसात-आठघंटेप्रतिदिनपढ़ाईकरतीहैं।इंटरमीडिएटकेबादअबवरआईएएसकीतैयारीकरेंगे।उनकासपनाबचपनसेहीआईएएसआफिसरबनकरदेशऔरजनताकीसेवाकरनेकाहै।इंटरमीडिएटकीपढ़ाईकरतेसमयभीवहआईएएसकीतैयारीकररहीथीं।उन्होंनेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेपिता,मातानीताबंसल,ताऊविनीतबंसलऔरराजीवबंसलकोदियाहै।फोटो::18,आइएएसबननाचाहतीहैसाक्षीसिंह

-हयूमैनिटिजवर्गमेंजिलेमेंतीसरेस्थानपररहनेवालीसाक्षीसिंहनेस्कूलकेअलावाप्रतिदिनपांचसेछहघंटेपढ़ाईकीहै।यमुनापुरमनिवासीछात्रानेमाता-पितानेकोचिगलेनेकेलिएकहाभीलेकिनहोनहारबिटियानेइंकारकरदिया।इन्होंनेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेमाता-पिताऔरगुरूजनोंकोदियाहै।कामयाबीकोप्राप्तकरनेकेगुरइन्होंनेअपनेबिजनेसमैनपिताअशोककुमारसिंहसेसीखे।छात्रानेबतायाकिअच्छेअंकपानेहोयासफलताकीकोईऔरइबारतलिखनीहोतोलगनकेसाथमेहनतकरतेरहोबस।फोटो::50सीएबननाचाहतीहैसताक्षी

-वाणिज्यवर्गमेंजिलाटॉपकरनेवालीसताक्षीसिंहशहरकीअंबाकालोनीमेंरहतीहै।इनकेपितामनोजकुमारबिजनेसमैनहैं।मेधावीबेटीनेनियमितआठघंटेपढ़ाईकरसफलताकापरचमलहराया।बिनाकिसीकोचिगऔरट्यूशनकेमेधावीछात्रानेवाणिज्यवर्गमें98.6्रफीसदअंकप्राप्तकिएहैं।मेधावीनेबतायाकिस्कूलजानेकेबादकेवलघरपरपढ़ाईकी।पढ़ाईकेशुरूआतीदिनोंसेहीएकअच्छासीएबननेकासपनादेखाहै।बसउसीकोसाकारकरनाहै।मेरीइससफलताकेपीछेमेरेमाता-पिताऔरगुरूजनोंकापूरासहयोगहै।मैंअपनीसफलताकाश्रेयइनकोहीदेनाचाहतीहूं।फोटो::49,जिलाजजबनाचाहतेहैंखुशवीर

वाणिज्यवर्गमेंजिलेमेंदूसरास्थानप्राप्तकरनेवालेआजादपब्लिकस्कूलकेखुशवीरसिंहशहरकेचांदपुरमेंरहतेहैं।इन्होंनेकभीकोचिगनहींली।आजादमेंहीपढ़ानेवालेअपनेपितासेसहयोगलिया।स्कूलकेअलावाघरपरपांचघंटेरोजानापढ़ाईकी।अभीयहमेधावीछात्रभविष्यमेंजिलाजजबनकरअपनेमाता-पिताकानामरोशनकरनाचाहतेहैं।इसकेलिएउन्होंनेइंटरमीडिएटकीपरीक्षादेनेकेबादसेहीतैयारीशुरूकरदी।इन्होंनेअपनीसफलताकाश्रेयअपनेमाता-पिताऔरगुरुजनोंकोदियाहै।फोटो::103,एडवोकेटबननाचाहतीहैव्यापारीकीबेटी

शहरकेहोलीचौकमेंरहनेवालेमनीषअग्रवालकीबेटीटीशाअग्रवालनेवाणिज्यवर्गमेंजिलेमेंदूसरास्थानकब्जायाहै।स्कूलकेअलावानियमितआठघंटेपढ़ाईकीहै।पूरेसालपढ़ाईकेअलावाकोईदूसराकामनहींकिया।अबयेमेधावीछात्राएकनामचीनएडवोकेटबनकरदिल्लीसुप्रीमकोर्टमेंप्रैक्टिसकरनाचाहतीहै।इनकासपनाहैकियेलोगोंकोन्यायदिलाए।अपनीसफलताकाश्रेयइसछात्रानेअपनेमाता-पिताऔरअपनेगुरुजनोंकोदियाहै।इंजीनियरबननाचाहताहैराहुलचौधरी

-साइंसवर्गमेंतीसरास्थानप्राप्तकरनेवालाराहुलचौधरीआजादपब्लिकस्कूलकामेधावीछात्रहै।बिनाकिसीकोचिगकेसफलताप्राप्तकरनेवालेइसमेधावीनेघरपरनियमितछहघंटेपढ़ाईकी।खेलनेकोबहुतकमसमयदिया।शादी-विवाहऔरअन्यकार्यक्रमोंकोभीदरकिनारकिया।उन्होंनेजिलाटॉपकरनेकालक्ष्यबनायाथालेकिनकिनारेतकपहुंचकररहगये।अबराहुलइंजीनियरबनाकरदेशकीसेवाकरनाचाहताहैऔरदेशकेलिएअविष्कारकरनाचाहताहै।

By Davies