नईदिल्ली,जागरणसंवाददाता।दिल्लीकेसरकारीस्कूलोंमेंपढ़नेवालेपहलीसेपांचवीतककेबच्चेअबमाहमेंतीनदिनबिनाबस्तेकेस्कूलजाएंगे।दिल्लीसरकारकेसमग्रशिक्षाविभागनेइससंबंधमेंएकपरिपत्रजारीकियाहै।परिपत्रमेंविभागकेउपशिक्षानिदेशकमोहिंदरपालसिंहनेकहाकिराष्ट्रीयशिक्षानीति-2020केतहतस्कूलोंमेंआनलाइनबैगलेसडे-हैप्पीडे'कार्यक्रमचलायाजाएगा।येकार्यक्रमहरस्कूलमेंआनलाइनमाध्यमसेप्रत्येकशनिवारकोमनायाजाएगा।जिसमेंबच्चेकोहरशनिवार(दूसरेशनिवारकोछोड़कर)एकथीमदीजाएगी।

इसदिनबच्चेपढ़ाई-लिखाईसेमुक्तरहकरखुदकीरुचिकेअनुरूपकलात्मकक्रियाकलापकरेंगे।निदेशालयकेवरिष्ठअधिकारीनेबतायाकिअगरशिक्षकनेकिसीसप्ताहमेंबच्चोंकोजीवितऔरअजीवितवस्तुकेबारेंमेंपढ़ायाहै।तोशनिवारकोशिक्षकछात्रोंकोएकचित्रपेंटकरनेकोकहसकतेहैं।चित्रमेंउन्हेंजीवितऔरअजीवितवस्तुकोबनाकरपेंटकरनेकेलिएकहसकतेहैं।इससेउनमेंपर्यावरणविज्ञानकोलेकरसमझपैदाहोगी।

अगरवोइनवस्तुओंकानामभीलिखेंगेतोइससेउनकीभाषाईसमझभीविकसितहोगी।शिक्षानिदेशालयकेएकवरिष्ठअधिकारीकेमुताबिकइसकार्यक्रमकेतहतएकप्रकारसेविद्यार्थियोंकोतनावमुक्तरखनेऔरखेल-खेलमेंरोचकढंगसेपढ़ाईकरानेपरजोरदियाजाएगा।

By Davey