श्रावस्ती:कोरोनाकालमेंक्वारंटाइनसेंटरबनेप्राथमिकविद्यालयइमलियामेंछात्रोंकोबुलाकरशिक्षिकानेपाठशालालगाली।इसदौराननतोबच्चेमास्कलगाएथेऔरनहीशारीरिकदूरीकाख्यालरखागयाथा।नियमोंकोदर-किनारकरशिक्षिकाकीमनमानीचर्चामेंहै।

बीएसएओमकारराणानेशिक्षकोंकोविद्यालयमेंहाजिरहोकरसाफ-सफाईसमेतआवश्यककार्यकरनेकेनिर्देशदिएथे।इसीक्रममेंजमुनहाब्लॉकप्राथमिकविद्यालयइमलियामेंप्रधानशिक्षिकाशारदायादवनेस्कूलखोला।विद्यालयकीनतोसफाईकराईगईऔरनहीसैनिटाइजकरायागया।अव्यवस्थाओंकेबीचउन्होंनेविद्यालयमेंबच्चोंकीपाठशालालगादी।प्रधानशिक्षिकाकेद्वाराबच्चोंकेप्रतिबरतीगईलापरवाहीकेप्रतिजिम्मेदारअंजानबनेरहे।यहहालजबहैतबस्कूलखोलकरपढ़ानेकाकोईआदेशनहींहै।हदतोतबहोगईजबबच्चेबिनामास्कलगाएस्कूलमेंपहुंचगए।शारीरिकदूरीकेनियमोंकाभीइसदौरानउल्लंघनकियागया।जिलाबेसिकशिक्षाअधिकारीओमकारराणाबतातेहैंकियहविद्यालयक्वारंटाइनसेंटरनहींबनायागयाथा।बच्चेप्रधानशिक्षिकासेमिलनेकेलिएस्कूलआएथे,फिरभीइसकीजांचकराईजाएगी।बीडीओजीतेंद्रनाथदूबेनेबतायाकियहविद्यालयपहलेक्वारंटाइनसेंटरबनायागयाथा।

By Davey