जागरणसंवाददाता,केलंग:जिलालाहुलस्पीतिकेगोंदलापंचायतमेंहिमाचलप्रदेशराज्यविधिकसेवाप्राधिकरणद्वाराविधिकसाक्षरताशिविरलगायागया।शिविरकीअध्यक्षताकरतेहुएउच्चन्यायालयकेमुख्यन्यायाधीशएवंअध्यक्षहिमाचलप्रदेशराज्यविधिकप्राधिकरणधर्मचंदचौधरीनेकहाकिलोकतंत्रमेंन्यायालयतथामीडियाकीभूमिकाअहमहै।उन्होंनेमीडियाकर्मियोंसेआह्वानकियाकिकईबारमीडियासमाजमेंसनसनीफैलानेकीकोशिशकरताहै,जोकिसहीनहींहै।उन्होंनेकहाकिभारतकेसंविधानमेंआर्थिकरूपसेकमजोर,अनुसूचितजाति,जनजातिमहिलाओंकेलिएमुफ्तकानूनीसहायताकाप्रावधानहै।वहींवनअधिकारअधिनियमवपैसाएक्टपरलोगोंवप्रशासनकेबीचसांमजस्यबैठानेकेलिएइनअधिकारोंपरजागरूकताशिविरलगानेकेलिएनिर्देशदिए।इसअवसरपररजिस्ट्रारजरनलहिमाचलप्रदेशउच्चन्यायालयवीरेन्द्रसिंहवजिलाएवंसत्रन्यायाधीशकुल्लूपुरेन्द्रवैद्यनेअपनेविचाररखे।इसअवसरपरउपायुक्तलाहुलस्पीतिकेकेसरोच,उपमंडलअधिकारीनागरिकअमरनेगी,खंडविकासअधिकारीसुरेन्द्रसहितविभिन्नविभागोंकेअधिकारीमौजूदथे।

By Davison