संवादसूत्र,कांडी(गढ़वा):प्रखंडकेलक्ष्मीचंद्रवंशीकन्याउच्चविद्यालयकांडीकेप्रधानाध्यापकयदुवीरपासवानद्वारागुरुवारकोविद्यालयकेकईजटिलसमस्याओंकोलेकरविद्यालयकेसभीशिक्षकेतरकर्मचारियोंकेसाथविद्यालयगेटकेबाहरबैठकरएकदिवसीयधरनाप्रदर्शनकार्यक्रमकाआयोजनकिया।इससंबंधमेंजानकारीदेतेहुएयदुवीरपासवाननेबतायाकिविद्यालयकीस्थापनावर्ष2000मेंक्षेत्रीयविधायकरामचंद्रचंद्रवंशीद्वाराकियागयाथा।सातवर्षतकविद्यालयकेसभीशिक्षकनिशुल्करूपसेविद्यालयमेंअध्ययनरतछात्राओंकेबीचपठन-पाठनकरतेरहे।सत्र2007-08मेंसरकारद्वाराइसविद्यालयकोअनुदानरहितकियागया।सत्र2017सेइसविद्यालयकोअभीतकअनुदानप्राप्तनहींहुआहै।जिससेविद्यालयमेंअध्ययनरतछात्राओंकेबीचपठन-पाठनकरानेवाले14शिक्षकेतरकर्मचारियोंकेबीचभुखमरीकीस्थितिउत्पन्नहोगईहै।सभीशिक्षकेतरकर्मचारीअपनेअपनेआवश्यकताओंकोपूर्तिकरनेमेंअसमर्थताजाहिरकररहेहैं।विद्यालयकेविभिन्नजटिलसमस्याओंकोलेकरविद्यालयकेप्रधानाध्यापकयदुवीरपासवाननेकईबारविधायकरामचंद्रचंद्रवंशीविद्यालयकीसमस्याओंसेअवगतकराया।परंतुविधायकद्वाराकिसीतरहकाकोईपहलनहींकियागया।प्रखंडकायहइकलौताकन्याउच्चविद्यालयहै।जिसमेंआजभी6से10क्लासतक400नामांकितछात्राविद्यालयमेंअध्ययनरतहैं।इसविद्यालयकोट्रस्टसेभीजोड़ागयाहै।उन्होंनेकहाकिविद्यालयकेसचिवडा.ईश्वरसागरचंद्रवंशीभीउदासीनरवैएअख्तियारकिएहुएहैं।उन्होंनेकहाकिअध्ययनरतछात्राएंसरकारद्वारादीजानेवालीसरकारीसुविधामसलनछात्रवृत्ति,पुस्तक,पोशाकतथाअन्यकईसरकारीसुविधाओंसेवंचितहैं।जिसकोलेकरविद्यालयकेसभीशिक्षकेतरकर्मचारियोंनेनिर्णयलियाकिएकदिवसीयधरनाप्रदर्शनकेसाथअनिश्चितकालीनकेलिएविद्यालयकोबंदकियाजाएगा।जबतकविद्यालयकीसमस्यातथाशिक्षकेतरकर्मचारियोंकीसमस्याकीनिदाननहींकीजातीतबतकअनिश्चितकालकेलिएविद्यालयबंदरहेगा।धरनापरबैठनेवालोंमेंयदुवीरपासवान,विनयकुमारयादव,राजकुमारपाल,राजेशकुमारवर्मा,चितामणिपाल,रीताकुमारी,रघुनाथपासवान,धीरेंद्रमेहता,रीनाकुमारी,सुरेशप्रसाद,राजीवरंजनकुमार,मदनकुमार,अमोलकुमार,अभिषेककुमारआदिकानामशामिलहै।