देहरादूनस्थितदूनस्कूलकेपूर्वछात्रअपनेअलुमनाईकेसाथमिलकरजरूरतमंदोंकोमददपहुंचातेहैं.येसभीपूर्वछात्रसालमेंकईखेलोकाआयोजनकरतेहैऔरउसखेलमेंजोभीपैसाआताहैवोउन्हेजरूरतमंदोंकोदानमेंदेतेहै.देश-विदेशमेंहजारोंदूनस्कूलकेछात्रहैवोसबसालमेंकभीनकभीइसखेलमेंहिस्सालेतेहैऔरदेशकेविकासमेंमददकरतेहैं.दूनस्कूलसेपढ़करनिकलेहुएछात्रोंनेअपनीअंतराष्ट्रीयस्तरकीएकसंस्थाबनाईहुईहै,जिसकानामTheDoonschoololdboyssocietyहै.इससोसायटीमेंदेशविदेशमेंहजारोंसफलछात्रजुड़ेहुएहै.इसकेसदस्यरघुवेंद्रसिंहबतातेहैंकिहमTheDoonschoololdboyssocietyकेतहतहरसालदर्जनोंमैचकाआयोजनदेशकेअलगअलगस्थानोंपरकरतेहै.कभीवो स्पॉन्सरहोतेहैतोकभीखुदसेहीहमलोगपैसेइकठ्ठाकरकेखेलतेहैं.जोभीटीममैचमेंपुरुस्कारराशिजीतनेकेबादउसेवहलोगजरूरतमंदसंस्था,अस्पतालकोदानदेदेतेहै.रघुवेंद्रसिंहकहतेहैंकिCoronaकेदौरानजबलोगइलाजऔरअन्यसंसाधनोंकेबिनाडेथहोरहीथीतोउसदौरानहमनेकईराज्योंमेंलोगोंकीमददकी.हमारायेमाननाहैकिदेशकेविषमपरिस्थितियोंमेंहमारीजिम्मेदारीनागरिककेरूपमेंअधिकबढ़जातीहै.

TheDoonschoololdboyssocietyएकऐसीसंस्थाहैजिसमेंचालीस50सालपहलेपासआउटलोगभीमेंबरहै.इसकेसचिवआशुतोषगोयलबतातेहैंकिहमनेदेशमेंअपनेअलुमनाईकाक्लस्टरबांटरखाहै,जैसेदिल्लीक्षेत्रएकअलगक्लस्टरहै.इसकेक्षेत्रमेंजोभीकामहोताहैवोइसक्षेत्रकाक्लस्टरहेडसंभालेगा.हमहरकिसीसेपैसेभीनहींलेतेहमखुदहीआपसमेंसारामैनेजकरतेहैं.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

By Daniels