प्रदीपशाही,फतेहगढ़साहिब:कहतेहैंकिइंसानयदिकुछठानले,तोहरमुकामकोहासिलकरसकताहै।इसीभावनाकोमनमेंठानकरकुछनयाकरसमाजमेंनईपहचानसाबितकरनेकेलिएगांवमनेलाकेसरकारीशिक्षकजगतारमनेलानेसरकारीस्कूलकीदशाकोबदलकरप्राइवेटस्कूलकोभीमातदेनेकीपहलकीहै।शिक्षकजगतारद्वारागांवकेसरकारीस्कूलकोदिलाईनईपहचानकोदेखकरकोईयकीनहीनहींकरताहैकिसरकारीस्कूलभीप्राइवेटस्कूलकोमातदेसकतेहैं।शिक्षकजगतारसरकारीस्कूलगांवबदेशखुर्दकेबादमनेलास्कूलकीनुहारबदलनेमेंजुटेहैं।इनदोनोंस्कूलोंमेंवहअबतकअपनेमित्रों,गांवकेसहयोग,एनआरआइलोगोंकीमददसे35लाखसेअधिककीराशिसेविकासकार्यकरचुकेहैं।जगतारनेबतायाकिउनकीपहलीपोस्टिंगजुलाई2006मेंबदेशखुर्दस्थितसरकारीएलिमेंटरीस्कूलमेंहुई।स्कूलकीइमारतबेहदखस्ताहालथी।पहलेवेतनसेस्कूलमेंसबमर्सिबललगानेकाकामशुरूकरदिया।गांवकेअन्यलोगोंकेसाथसरपंचपरमजीत¨सहभंगूनेमददकी।स्कूलकाग्राउंडतैयारकरघासलगाईतथापौधेलगाए।इसकेबादहरकोईस्कूलकीमददकेलिएआगेआया।गांवकेएनआरआइहरभजनसिंहनेएकलाखरुपयेदिया।मेराहौंसलाबढ़ा।फंडआतागया।विकासहोतागया।इसस्कूलमेंवर्ष2015तकजॉबकी।जबमैंनेस्कूलज्वाइनकियाथा।उससमय15-16बच्चेथे।जबमेरातबादलाहुआ।तोवहस्कूलअपग्रेडहोमिडिलस्कूलबनगयाथा।जगतारनेबतायाकिइसकेबादमेराट्रांस्फरमनेलास्कूलमेंहुई।यहांभीस्कूलइमारतकीस्थितिकुछखासअच्छीनहींथी।फिरलोगोंसेसंपर्ककिया।स्कूलकीएककिलेकीजमीनपरहुएकब्जेकोहटवाग्राउंडबनास्पो‌र्ट्समीटकरवाई।बतौरमुख्यमेहमानविधायकनिर्मल¨सहने50हजाररुपयेकीमददकी।हंसालीवालेबाबाजीआशीर्वादकेचलतेबड़ीराशिलोगोंनेदी।स्कूलमेंचारकमरेऔरचारदीवारीकानिर्माणकिया।आजस्कूलकीइमारतकोपहलीनजरमेंदेखकरप्राइवेटस्कूलकाभ्रमहोताहै।इनदोनोंस्कूलोंवआस-पासकेक्षेत्रमेंपर्यावरणसंरक्षणहेतूकरीब10लाखकापौधरोपणकियाजाचुकाहै।स्कूलोंकेविकासकोदेखतेहुएएमपीह¨रदरसिहंखालसाकीओरसे2.50लाखरुपयेकाफंडमिला।अबतोसरकारकीओरसेभीराशिमिलनीशुरूहोगईहै।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!

By Daly