जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:जिलेकेरवाईखालक्षेत्रमेंपशुचिकित्सकनहींहोनेसेग्रामीणोंकोकईपरेशानियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।गांवकेपशुपालकोंनेक्षेत्रमेंपशुचिकित्साउपकेंद्रखोलेजानेकीमांगकीहै।

वीरांगनाग्रामपंचायतमहिलाजनप्रतिनिधिसंगठनकाएकदलपशुधनअधिकारीसेमिला।इसदौरानउन्होंनेबतायाकिरवाईखालकेकरीबएकदर्जनगांवपशुचिकित्सासेविहीनहैं।जिससेलोगोंकोमेडिकलस्टोरसेहीकामचलानापड़रहाहै।लेकिनकईबारमेडिकलस्टोरकीदवाखाकरपशुओंकोगंभीरसमस्याभीहोजातीहै।ऐसेमेंउन्होंनेक्षेत्रमेंपशुचिकित्साकेंद्रखोलनेकीसिफारिशकीहै।संगठनकीअध्यक्षमंजूपरिहारनेबतायाकिग्रामपंचायतबमराड़ी,फटगली,मगरूपहरी,मालूझाल,ओरवल्सौ,सेल्टा,बहुली,उडलगांवआदिमेंसबसेज्यादासमस्याहै।इसमौकेपरमुन्नीदेवी,बसंतीदेवी,कवितादास,हेमापरिहार,नीमा,गंगा,प्रेमा,कमलादेवीआदिमौजूदरहे।