नयीदिल्ली,30नवंबर(भाषा)रक्षामंत्रीराजनाथसिंहनेशनिवारकोअपनेजापानीसमकक्षतारोकोनोसेहिंद-प्रशांतक्षेत्रमेंउत्पन्नसुरक्षापरिदृश्यसमेतकईसामरिकमुद्दोंपरवार्ताकी।दोनोंनेताओंकेबीचयहमुलाकातदोनोंदेशोंकेरक्षाएवंविदेशमंत्रियोंकेबीचहोनेवालीपहलीवार्तासेपूर्वहुई।अधिकारियोंनेबतायाकिसिंहऔरकोनोनेभारत-जापानरक्षाएवंसुरक्षासहयोगकेविभिन्नअहमपहलुओंपरचर्चाकी।साथहीउन्होंनेहिंद-प्रशांतक्षेत्रमेंउत्पन्नसुरक्षापरिदृश्यकीभीसमीक्षाकी।भारतऔरजापानदोनोंदेशहिंद-प्रशांतमेंक्षेत्रीयशांति,समृद्धिएवंस्थिरताकेलिएव्यापकएवंवृहददृष्टिकोणतैयारकरनेपरजोरदेरहेहैं।हिंद-प्रशांतक्षेत्रमेंचीनतेजीसेसैन्यएवंआर्थिकप्रभावकाविस्तारकररहाहैजिससेक्षेत्रएवंउससेअलगविभिन्नदेशोंमेंचिंताएंबढ़गईहैं।सिंह-कोनोकीबैठकमेंदोनोंपक्षोंनेसमुद्रीसुरक्षासहयोगकोऔरबढ़ानेपरभीफैसलाकिया।भारत,जापानऔरअमेरिकावार्षिकमालाबारसमुद्रीअभ्यासकाहिस्सारहेहैंजिसकाउद्देश्यतीनोंदेशोंकीनौसेनाओंकेबीचआपसमेंसंचालनसमन्वयकोऔरबेहतरकरनाथा।अधिकारियोंनेबतायाकिदोनोंमंत्रियोंनेप्रौद्योगिकीहस्तांतरणढांचेकेतहतहथियारएवंसैन्यहार्डवेयरकेविकासमेंसंबंधोंकोबढ़ानेपरभीचर्चाकी।रक्षासंबंधोंमेंबढ़तेसामंजस्यकेमद्देनजरदोनोंसामरिकसहयोगीपहलेहीसैन्यमंचोंकेसंयुक्तविकासकाफैसलाकरचुकेहैं।बतायाजाताहैकिदोनोंपक्षोंनेलंबेसमयसेलंबितयूएस-2एम्फीबियसविमानकीजापानद्वाराभारतकोआपूर्तिकेमुद्देपरभीचर्चाकी।

By Daly