संवादसहयोगी,नम्होल:डाईटजुखालामेंस्कूलनेतृत्वविकासकार्यक्रमकेतहतदसदिवसीयकार्यशालाबुधवारकोसंपन्नहुई।10दिवसीयकार्यशालामेंआठप्रधानाचार्य,तीनमुख्याध्यापकऔर16केंद्रमुख्यशिक्षकोंनेभागलिया।विशेषस्त्रोतव्यक्तिकेरूपमेंराकेशमनकोटिया,यशपालपटियाल,राजेशकुमार,जगदीपठाकुर,मंजूठाकुर,जसवंतसिंहनेनेतृत्वविकासकीबारीकियांसाझाकी।

कार्यक्रमकेजिलाप्रभारीकुलदीपचंदनेबतायाकिस्कूलमुखियोंकीनेतृत्वक्षमतामेंवृद्धिकरतेहुएस्कूलकेविभिन्नपहलुओंजैसेआत्मविश्वास,नईसोचएवंखोजकेसाथकार्यकरना,माता-पिताएवंसमुदायकीसहभागितातथासाझेदारीसुनिश्चितकरना,विद्यालयविकासयोजनातैयारकरना,स्कूलकीहरगतिविधिकोनेतृत्वविकासकीक्षमतासेजोड़नाऔरविद्यालयमेंपढ़नेवालेबच्चोंकाहितदेखतेहुएसमस्याओंकानिदानकरनाआदिविषयोंपरचर्चाकीगई।

स्कूलमुखियाओंनेअपने-अपनेविद्यालयकेअनुभवसाझाकिए।जिलाशिक्षाउपनिदेशकउच्चप्रकाशचंदनेकार्यशालाकानिरीक्षणकिया।उन्होंनेकहाकिबच्चोंकासहीमार्गदर्शनकरेंएवंउनकोप्रोत्साहितकरें।तभीउनकाव्यवहारबदलेगा,प्रेरणामिलेगी।तभीउनकेजीवनमेंपरिवर्तनआएगा।इसवर्षदसजमादोएवंदसवींकेपरीक्षापरिणाम80फीसदतकलेजानेहैं।इसकेलिएहमेंकड़ीमेहनतकरनीपड़ेगी।

उन्होंनेआह्वानकियाकिअपने-अपनेविद्यालयमेंजाकरइस10दिवसीयप्रशिक्षणशिविरमेंजोबारीकियांसीखींउनकाप्रयोगबच्चोंकीभलाईकेलिएकरें।कार्यशालाकेसमापनपरप्रधानाचार्यएवंजिलापरियोजनाअधिकारीराकेशपाठकनेकहाकिइसज्ञानकोबच्चोंमेंबांटें।