संवादसहयोगी,तरनतारन:सरकारीस्कूलोंकीशानदारइमारतोंनेनिजीस्कूलोंसेकहींअधिकअपनीपहचानबनाईहै।इनस्कूलोंनेअपनीबेहतरीनकार्यप्रणालीकेचलतेहरकिसीकोआकर्षितकियाहै।यहविचारडिप्टीकमिश्नरकुलवंतसिंहनेसरकारीएलिमेंट्रीस्कूलपखोकेकीइमारतकाउद्घाटनकरनेकेदौरानव्यक्तकिए।

उन्होंनेकहाकिइसइमारतकोसुंदरबनानेलिएस्कूलमुखीओंकारसिंह,अध्यापकअमनदीपसिंहवसमूहस्टाफनेकाफीसख्तमेहनतकीहै।उन्होंनेकहाकिसरकारीस्कूलोंमेंशिक्षासचिवकृष्णकुमारकेप्रयासोंसेयहांशिक्षाकास्तरऊंचाहुआहै,वहींअध्यापकोंनेभीगांवोंकेलोगोंकोअपनेबच्चोंकोअधिकसेअधिकसरकारीस्कूलोंमेंदाखिलकरवानेलिएप्रेरितकिया।प्रिंटमीडियाकोआर्डिनेटरदिनेशकुमारनेबतायाकिओंकारसिंहकीओरसेकीगईमेहनतनेइसस्कूलकोपंजाबमेंहीनहींबल्किभारतवसंसारकेविभिन्नक्षेत्रोंमेंपहचानदिलाईहै।स्कूलमुखीओंकारसिंहनेआखिरमेंआएहुएसमूहमेहमानोंकाधन्यवादकिया।

इसमौकेपरजिलाशिक्षाअधिकारी(एलिमेंट्री)सुशीलकुमार,डिप्टीडीईओ(एलिमेंट्री)परमजीतसिंह,ब्लाकएलिमेंट्रीशिक्षाअधिकारीवीरजीतकौर,पढ़ोपंजाब-पढ़ाओपंजाबकेजिलाकोआर्डिनेटरनवदीपसिंह,सहायकजिलाकोआर्डिनेटरअनूपमैणी,स्मार्टस्कूलकोआर्डिनेटरअमनदीपसिंह,शिरोमणिकमेटीकेपूर्वअध्यक्षअलविंदरपालसिंहपखोके,सरपंचहरजिंदरसिंह,पूर्वडीएसपीरतनसिंह,स्टेटअवार्डीसुखविंदरसिंहधामी,प्रभजोतसिंह,दविंदरसिंहखैहरा,मेहरपालसिंह,गुरिंदरपालसिंह,गुरवेलसिंह,हरप्रीतकौर,जतिंदरकौर,हरजिंदरपालकौर,परमिंदरकौरकेअलावाप्रिंसिपलविनयकुमारवसमूहसेकेंडरीस्टाफमौजूदथा।

By Dodd