राजकिशोरपांडेय,श्रावस्ती

'फलककोजिदहैजहांबिजलियांगिरानेकी।हमेंभीजिदहैवहींआशियांबनानेकी।।'यहशेरविकासखंडकेप्राथमिकविद्यालयशुकुलपुरवाकीप्रधानाध्यापिकागीतादेवीपरएकदमसटीकबैठताहै।गांवकाप्राइमरीस्कूलचौतरफाबाढ़केपानीसेघिरगया।लेकिनशिक्षाकेप्रतिसमर्पितशिक्षिकागीतादेवीनेहारनहींमानी।उन्होंनेमुहम्मदपुरकलास्थितअपनेघरकोहीविद्यालयमेंतब्दीलकरडाला।वहनसिर्फअपनेघरपरबच्चोंकोशिक्षितकररहीहैं,बल्किवहींपरएमडीएमबनवाकरबच्चोंकोदोपहरकाभोजनभीकरारहींहैं।

उनकायहविशेषस्कूलनियमितरूपसेऔरनिर्धारितसमयसेशुरूहोजाताहै।बच्चेभीसमयसेआजातेहैं।आजकेइसदौरमेंजबशिक्षकछुट्टीकेनितनयेबहानेढूढ़तेहैं,ऐसेमेंशिक्षिकागीतादेवीकायहप्रयाससमूचेजिलेमेंचर्चाकाविषयबनाहुआहै।वहबतातीहैंकिस्कूलकेचारोंओरबीतेचारअगस्तसेअबतकबाढ़कापानीभराहुआहै।विद्यालयतकपहुंचनेकेलिएकोईरास्ताभीनहींहै।बच्चोंकीपढ़ाईबाधितनहोइसकेलिएवेअपनेघरमेंहीपाठशालाशुरूकरदीहै।विद्यालयकेसहायकशिक्षकसंतोषपटेलवसीमाशुक्लाभीयहींपरआकरबच्चोंकोपढ़ातेहैं।इसविद्यालयमेंकुल57बच्चेपंजीकृतहैं।साक्षरताकेदृष्टिकोणसेबेहदपिछड़ेइसजिलेमेंशिक्षिकागीतादेवीकेइसप्रयासकीहरकोईप्रशंसाकररहाहै।

डीएमसाहब,अबतोबनवादेंसड़क

शुकुलपुरवागांवसेइसप्राथमिकविद्यालयकोजानेवालेरास्तेपरमिट्टीडलवाकरइसेऊंचाकरानेकेलिएगांवकेअनिलकुमार,मनोज,रामकुमार,अभिषेकशुक्ल,नरेंद्रशर्मा,द्वारिकाप्रसाद,अवधेश,संतराम,घनश्याम,प्रेमनरायणशुक्ल,लालबहादुरपाठक,राजनवजयकरननेबीते19जूनकोसांसददद्दनमिश्रकोपत्रलिखाथा।ग्रामीणोंनेइसबरसातसेपूर्वइससड़कपरमिट्टीपटानकाकामकरानेकाआग्रहकियाथा।सांसददद्दनमिश्रानेकार्रवाईकेलिएइसपत्रकोजिलाधिकारीदीपकमीणाकोप्रेषितकरदियाथा।लेकिनइससड़कपरमिट्टीपटानकाकामआजतकनहींहोसकाहै।

श्रावस्तीएकनजरमें

कुलसाक्षरता-49.13प्रतिशत

पुरुषसाक्षरता-59.55प्रतिशत

महिलासाक्षरता-37.07प्रतिशत

प्राथमिकविद्यालय-888

उच्चप्राथमिकविद्यालय-391

By Davison