अरवल।प्रखंडक्षेत्रकेशहरतेलपास्थितइंटरस्तरीयभागवतउच्चविद्यालयसंसाधनोंकेअभावकादंशझेलरहाहै।इसविद्यालयमेंविषयवारशिक्षकोंकीपदस्थापनानहींहोनेसेपाठ्यक्रमपूरानहींहोपाताहै।बदहालव्यवस्थाकेआगेछात्र-छात्राएंविवशरहतेहैं।पर्याप्तबेंचवडेस्कउपलब्धनहींहोनेकेकारणविद्यार्थियोंकोफर्शपरबैठनेकोमजबूरहोनापड़ताहै।

इसविद्यालयमेंनामांकित1148छात्र-छात्राओंकेपठनपाठनकेलिए15शिक्षकपदस्थापितहैं।दशमवर्गकेछात्रोंकीपढ़ाईकेलिए12शिक्षकहैजबकिइंटरस्तरीयसंकायकेलिएतीनशिक्षकोंकोपदस्थापितकियागयाहै।अंग्रेजीजैसेमहत्वपूर्णविषयोंकेशिक्षकनहींरहनेकेकारणपढ़ाईबाधितरहतीहै।इसविद्यालयमेंबच्चोंकेअनुपातमेंशिक्षकोंकीपदस्थापनाकेलिएअक्सरस्थानीयलोगोंद्वारागुहारलगाईजातीहैफिरभीविभागीयअधिकारियोंद्वारापहलनहींकियाजाताहै।

इंटरकेलिएइतिहासएवंउर्दूविषयकोछोड़करकिसीभीविषयमेंशिक्षकनहींहै।इंटरविज्ञानमें90एवंकला28छात्रनामांकितहैं।परीक्षाकोलेकरविद्यार्थियोंमेंसंशयकीस्थितिकायमरहतीहै।पठनपाठनकेअभावमेंको¨चगयाटयूशनकासहारालेनेकोमजबूरहोनापड़ताहै।विद्यालयकोहाइटेकबनानेकेलिएसरकारद्वाराकम्प्यूटरशिक्षाकीव्यवस्थातोकीगईलेकिनइसपरचोरोंकीनजरलगगई।कुछमहीनापहलेचोरोंद्वारासभीकम्प्यूटरकीचोरीकरलीगई।

दशवींवर्गकेबच्चोंकोप्रायोगिकशिक्षातोदियाजाताहैलेकिनइंटरकेविद्यार्थीइससेवंचितरहताहै।विद्यालयमेंपुस्तकालयकीस्थितिकुछठीकहै।

सुनेंछात्र-छात्राओंकी

हिंदीवअंग्रेजीविषयकेशिक्षकनहीरहनेसेपढ़ाईबाधितरहतीहै।नामांकनकेअनुसारशिक्षकउपलब्धनहींहै।

कमरेकीकमीकेकारणहमलोगोंकोभेड़बकरियोंजैसाबैठायाजाताहै।इससेपढ़नेमेंपरेशानीहोतीहै।

प्रियंकाकुमारी

विद्यालयमेंशिक्षकोंकीकमीतोहैहीविषयवारशिक्षकनहींरहनेसेपाठ्यक्रमपूरानहींहोपाताहै।हमलोगोंकोको¨चगकासहारालेनापड़ताहै।

कम्प्यूटरकीचोरीहोनेकेबादहमलोगइसकीपढ़ाईसेवंचितहैं।पुन:उपलब्धताकीव्यवस्थानहींकीजारहीहै।

सुनेप्रभारीप्रधानाध्यापककी:

उपलब्धसंसाधनोंसेहीबेहतरपठनपाठनकेलिएप्रयासरहताहूं।शिक्षकोंएवंमूलभूतसुविधाओंकीकमीकेलिएविभागीयपदाधिकारियोंकोअवगतकरायागयाहै।कमीकोदूरकियाजाएगा।

By Dobson