जागरणसंवाददाता,राउरकेला:चक्रवातयासकेकारणसुंदरगढ़जिलेमेंसैकड़ोंलोगोंकीगृहस्थीचौपटहोगईहै।तेजहवाकेसाथलगातारहुईबारिशमेंघरोंकेअंदरपानीघुसजानेसेराशनसामग्रीसमेतअन्यसामानपूरीतरहसेबर्बादहोगयाहै।लोगकिसीतरहअपनीजिंदगीकोफिरसेपटरीपरलानेकाप्रयासकररहेहैं।वहीं,लाखोंलोगोंकेलिएतबाहीलेकरआयावक्रवातयासकुछलोगोंकेघरकाचूल्हाजलनेकाइंतजामभीकरगया।निरंतरबारिशकेकारणनदियोंमेंआईबाढ़मेंतमामसूखेपेड़उखड़करबहतेनजरआरहेथे।नुआगांवऔरबिसराब्लॉककेतेतेरकेलाब्रिजपरकोयलनदीमेंबाढ़केपानीमेंऊपरीक्षेत्रमेंबड़ीमात्रामेंसूखेपेड़वलकड़ियांजमाहोगईथीं।इसकीखबरलगतेहीलोगनदीमेंउतरकरअपनीजानजोखिममेंडालकरलकड़ियांनिकालकरअपने-अपनेघरलेगए।इसदौरानबहुतसेलोगोंनेमछलीपकड़नेकेअंदाजमेंरस्सीकेसहारेलकड़ियांनदीसेनिकालकरसाइकिलऔररिक्शाकेजरियेघरलेगए।इसदौरानकईग्रामीणोंनेनदीमेंबहकरआईलकड़ियोंकोकिनारेपरहीजमाकरउनकेसूखनेकाइंतजारकररहेहैं।

इनलोगोंनेबतायाकिबारिशकेमौसममेंअक्सरजलावनकीलकड़ीकेलिएउनकोपरेशानहोनापड़ताहै।ऐसेमेंनदीमेंबहकरआईलकड़ियोंकोबारिशछूटनेकेबादसुखाकरजलावनकेरूपमेंइस्तेमालकियाजाएगा।इससेजलावनलकड़ीकेलिएरोजयहां-वहांभटकनानहींपड़ेगाऔरचारपैसेभीबचेंगे।

By Dobson