धर्मशाला,डॉ.राकेशशर्मा।UnionBudgetforHimachal,केंद्रीयबजटखासइसलिएहैक्योंकिइसमेंनहीआमतौरपरकरढांचेमेंबदलावसेराजस्वकोबढ़ानेकेप्रयासहैंऔरनहीखर्चमेंकमीकरराजकोषीयघाटेकोकमकरनेकीजद्दोजहद।कोरोनासेजूझरहीविश्वभरकीअर्थव्यवस्थाओंकीतरहभारतीयअर्थव्यवस्थाकोपुन:खड़ाकरनेकीकोशिशेंइतनीप्रबलहैंकिराजकोषीयघाटेकीसीमाएंलांघनेबारेभीकोईचिंतानहीं।इसीबीचदेशमेंयुवाओंकेकौशलएवंउद्यमविकासआधारितमिशनस्टार्टअपऔरआत्मनिर्भरभारतकोवैसेहीकेंद्रबिंदुबनाएरखागयाहैजैसेसूक्ष्म,लघुएवंमध्यमउद्यमको।इनकेलिएप्रोत्साहनकीबयारइतनीकिआयात-निर्याततककामाहौलसुगमबनायागयाहै।

छोटेराज्योंकोदोस्तरपरकेंद्रीयबजटसेउम्मीदहोतीहै।एक,व्यक्तिगततौरपरकरोंकीरियायतकेलिए।दूसरा,प्रदेशसरकारकोकेंद्रीयमदद।बेशककेंद्रीयबजटप्रदेशकोप्रत्यक्षतौरपरधनआवंटननहींकरतापरंतुकेंद्रप्रायोजितकार्यक्रमों,योजनाओंकेमाध्यमऔरकरोंसेप्राप्तराजस्वकोवित्तआयोगकीसिफारिशोंकेअनुरूपबांटकरराज्योंकेबजटकोप्रभावितकरताहै।

करोंसेप्राप्तराजस्वकेआबंटनऔरवित्तआयोगकेअनुदानमेंपिछलेवित्तीयवर्षकेमुकाबले2021-22में21फीसदवृद्धिदर्जहुईजोसभीराज्योंकीवित्तीयस्थितिकेलिएअच्छासंकेतहै।केंद्रप्रायोजितकार्यक्रमोंकेमाध्यमसेभीप्रदेशकेविभिन्नविभागोंकोसहायताबढ़ेगीहालांकिवित्तवर्ष2020-21केसंशोधितआंकड़ोंकेअनुसारइसमेंगिरावटदिखाईदेगीक्योंकिकोरोनाकेकारणइनमदोंमेंअप्रत्याशितवृद्धिकरनीपड़ीथी।हिमाचलसहित17राज्योंकेलिएएकअच्छीखबरयहहैकिराजस्वघाटाअनुदानपिछलेवित्तीयवर्षकेमुकाबलेतकरीबन60प्रतिशतबढ़ाहै।बेशकइसमेंअब14केबजाय17राज्यहिस्सेदारहोंगे।

कोरोनाकेभयावहसंकटसेसबकलेकरस्वास्थ्यकेबजटमेंअप्रत्याशित135फीसदवृद्धिहर्षकाविषयहैक्योंकिस्वास्थ्यऔरशिक्षाहीकिसीभीअर्थव्यवस्थाकेविकासकीरीढ़हैं।इससेहिमाचलप्रदेशकेस्वास्थ्यढांचेमेंभीआवश्यकसुधारहोगाजोवर्तमानमेंकिनहालातमेंहै,छुपानहीं।बजटमेंलक्ष्ययहरहेगाकिऐसीव्यवस्थाबनाईजाएकिकमसेकमलोगहीअस्पतालपहुंचें।इससंदर्भमेंकेंद्रीयमदकोहमकागजीप्रोजेक्टसेआगेधरातलपरसहीढंगसेउतारपाएंतोप्रदेशकीजनताकाभलाहोजोआजभीप्रदेशकेसर्वोच्चअस्पतालकेबेहदसीमितआपातकालकक्षमेंप्रवेशपाकृतज्ञहोजातीहै।जलजीवनमिशनकोशहरीक्षेत्रतकलेजानेकेलिएबजटमेंपिछलेवर्षके11हजारकरोड़रुपयेकेमुकाबलेइसवर्ष50हजारकरोड़कालक्ष्यहिमाचलजैसेराज्योंमेंपानीऔरसीवेजट्रीटमेंटकीबुनियादीजरूरतकोपूराकरसकताहै।

शहरीक्षेत्रोंमेंसामुदायिकपरिवहनकोनिजी,सार्वजनिकसहभागितामेंचलानेकीबजटमेंव्यवस्थाभीप्रदेशकोअबआकलनकरनेपरमजबूरकरसकतीहै।रेलवेट्रैकमेंअधिकाधिकविस्टाडोमचलानेवस्पीडबढ़ाकरयात्रासमयअवधिकोघटानेकेबारेमेंभीप्रदेशकोप्रयत्नकरनेचाहिएक्योंकिइसओरबजटकेलक्ष्योंमेंप्रावधानदिखाईदिएहैंऔरपूर्वमेंकुछप्रयासहुएभीहैं।सहकारीसमितियोंकोऔरआसानीसेगठितएवंसंचालितकरनेबारेभीस्पष्टसुधारकीबातकहीहै।

बजटमेंसमर्थनमूल्यकोलागतकेडेढ़गुनारखनेकेलक्ष्यसेभीकिसानोंकीआयकोदोगुनाकरनेमेंबलमिलेगा।हिमाचलजैसेहिंदीभाषीराज्योंकेलिएराष्ट्रीयभाषाअनुवादकमीशनकीस्थापनामददगारहोगीक्योंकिजन-मानसकीहिंदीभाषाफिरस्वयंशासन-प्रशासनकेलिएभीआसानहोपाएगीऔरआमजनकेलिएभी।कोरोनाकालऔरउससेआईमंदीसेनिपटनेकेलिएएफआरबीएमएक्टकेलक्ष्यकेअनुरूपराजकोषीयघाटारखनेकेबारेमेंकेंद्रनेभलेस्वयंइसतर्कपरछूटलीहोकिदेशकोसंकटसेबाहरनिकालनाहैपरंतुराज्योंकोइससीमाकेअंदरहीपैरपसारनेकेसंकेतभीबजटभाषणमेंस्पष्टसुनाईपड़ेहैं।वित्तआयोगकीसिफारिशकेमुताबिक2023-24तकराज्योंकोराजकोषीयघाटासकलघरेलूराज्यउत्पादकातीनप्रतिशतपरहीरखनाहोगा।

स्वरोजगारकेसाथअन्यकेलिएरोजगारकेअवसरजुटाआजकेपढ़ेलिखेयुवाउद्यमीबननेकेद्वारपरखड़ेहैं,बसएकपहलकीजरूरतहै।माहौलऔरभीअनुकूलहैक्योंकिबरसोंसेचाहीजानेवालीनौकरियोंमेंअबवेतन,भत्ते,प्रोमोशन,सुविधाएंनिम्नचरणपरहैंऔरकार्य-तनाववजी-हज़ूरीशिखरपर।केंद्रकेबजटनेन्यूनतमसरकारअधिकतमशासनकेलक्ष्योंकाउल्लेखकेवलकेंद्रकेदायरेमेंकरइत्यादिसरलीकरणसेजोड़ाहैपरंतुराज्योंकोइसेव्यापकबनानाहोगाविशेषतौरपरजहांनएउद्यमकोप्रोत्साहनकीबातहोअन्यथाबरसोंकीलाटसाहबीनहीनिजीक्षेत्रकीकृषिवसहकारीक्षेत्रकोसम्मानदेपाईहैऔरनहीकिसीभीस्तरकेउद्यमऔरनिवेशको।

कुलमिलाकर,प्रदेशकेलिएस्थितिलगभगपिछलेवर्षोंकेसमानहीहैजहांकेंद्रसेवित्तीयमददएवंकार्यक्रमलगातारबढ़तेजारहेहैंऔरयहअबहिमाचलकीकार्यव्यवस्थापरनिर्भरकरताहैकिहमकिन-किनकार्यक्रमोंपरियोजनाओंकोकेंद्रसेखींचपातेहैंऔरकितनीईमानदारीसेधरातलपरउतारनेवालेप्रयासकरतेहैं।

(लेखकहिमाचललोकप्रशासनसंस्थान(हिपा)शिमलामेंएसोसिएटप्रोफेसरहैं,येलेखककेनिजीविचारहैं)

By Dennis