लखनऊ[राज्यब्यूरो]।होमगार्ड्सस्वयंसेवक,अवैतनिकअधिकारियोंवउनकेआश्रितोंकोमिलनेवालीअनुग्रहराशिकानियमबदलगयाहै।अबहोमगार्ड्सवअवैतनिकअधिकारियोंकीसेवाअवधियानीसेवानिवृत्तितकमृत्युहोनेपरउनकेउत्तराधिकारीकोयास्थायीअपंगताहोनेपरस्वयंसेवककोसरकारपांचलाखरुपयेकीअनुग्रहराशिदेगी।यहनियमछहदिसंबर2020सेलागूकरदियाहै।पहलेयहराशिड्यूटीकेदौरानमृत्युयास्थायीअपंगताहोनेपरहीदीजातीरहीहै।येनिर्णयसोमवारकोमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथकीअध्यक्षतामेंमंत्रिपरिषदकीबैठकमेंकियागया।

मंत्रिपरिषदनेयहभीनिर्णयकियाकिहोमगार्ड्सस्वयंसेवकोंवअवैतनिकअधिकारियोंकीसेवावधि(अधिवर्षतासेपूर्व)मेंएकअंगयाएकआंखकीपूर्णरूपसेहानिहोतीहैतोउसे2.5लाखरुपयेकीअनुग्रहधनराशिदीजाएगी।यहव्यवस्थाछहदिसंबर,2020सेलागूहोगी।मंत्रिपरिषदनेसामाजिकसुरक्षाबीमायोजनाकेतहतड्यूटीवप्रशिक्षणरतहोमगार्ड्सस्वयंसेवकोंवअवैतनिकअधिकारियोंकोदुर्घटनाकेकारणमृत्युहोनेवअपंगताहोनेकीदशामेंबीमाकंपनीकीओरसेदीजानेवालीधनराशिकीव्यवस्थाकोखत्मकरदियाहै।

प्रमुखसचिवहोमगार्डअनिलकुमारनेबतायाकिहोमगाड्र्सस्वयंसेवकवअवैतनिकअधिकारीदुर्घटनाबीमासेआच्छादितनहींहोतेरहेहैं,उनकोउत्तरप्रदेशहोमगाड्र्सस्वयंसेवककल्याणकोषनियमावली2013केप्रस्तर-4(क)1,2,3,व4केअनुसारदीजानेवालीधनराशिकीव्यवस्थाकोसमाप्तकरनेकानिर्णयभीकियागयाहै।

गृहजिलेमेंनहींहोगीआबकारीसिपाहियोंकीतैनाती :आबकारीविभागमेंसिपाहियोंकोअबगृहजिलेमेंतैनातीनहींमिलेगी।विभागमेंसिपाहियोंकेचयनकेलिएशारीरिकदक्षतापरीक्षाकोउत्तीर्णकरनाभीजरूरीहोगा।कैबिनेटनेसोमवारकोउत्तरप्रदेशआबकारीसिपाहीऔरताड़ीपर्यवेक्षकसेवा(छठवांसंशोधन)नियमावली,2021कोमंजूरीदेदीहै।भ्रष्टाचारपरअंकुशलगानेकेलिएनईनियमावलीमेंआबकारीविभागकेसिपाहियोंकीगृहजिलेमेंतैनातीनकरनेकाप्रविधानकियागयाहै।वहींसिपाहियोंकेचयनकीप्रक्रियामेंभीबदलावकियागयाहै।अभीतकआबकारीविभागमेंसिपाहीकेचयनमेंलिखितऔरशारीरिकदक्षतापरीक्षाओंकेअंकोंकोजोड़करउसकेआधारपरचयनहोताथा।नियमावलीमेंइसव्यवस्थामेंबदलावकरतेहुएसिपाहीपदपरचयनकेलिएशारीरिकदक्षतापरीक्षाकोउत्तीर्णकरनाअनिवार्यकरदियागयाहै।

खत्महोंगेअनुपयोगी312कानून:ईजआफडूइंगबिजनेस(व्यापारकीसुगमता)केसाथहीभाजपासरकारकाजोरईजआफलिविंग(जीवनकीसुगमता)परहै।इसेदेखतेहुएयोगीसरकारनेप्रदेशमेंलागू312अनुपयोगीऔरअप्रचलितकानूनोंकोखत्मकरनेकानिर्णयलियाहै।इसकेलिएतैयारउत्तरप्रदेशअध्यादेश,2021केप्रारूपकोसोमवारकोकैबिनेटनेस्वीकृतिदेदीहै। गैरजरूरीकानूनोंकाभारकारोबारियोंऔरआमजनपरसेकमकरनेकीकवायदकईमाहपहलेप्रदेशसरकारनेशुरूकी।इसकेसंबंधमेंशासनकेसंबंधितप्रशासकीयविभागोंसेअनापत्तियांमांगीगईं।सातवेंउत्तरप्रदेशराज्यविधिआयोगद्वारानिरसन(खत्मकरने)केलिएकुल1430अधिनियमोंमेंसे960कीसंस्तुतिकी।इनमेंसे297कानूनोंऔरईजआफडूइंगबिजनेसकोदेखतेहुएऔद्योगिकविकासविभागद्वारासंदर्भित15अधिनियमों(जिनमेंसेचारराज्यविधिआयोगकीसूचीमेंशामिलनहींहैं)कोमिलाकरकुल312कोखत्मकियाजानाहै।इसकेलिएतैयारउत्तरप्रदेशनिरसनअध्यादेश,2021केप्रारूपकोस्वीकृतिमिलचुकीहै।विभागीयमंत्रीकेअनुमोदनसेइसेआगामीराज्यविधानमंडलसत्रमेंरखाजाएगा।जल्दहीइसपरअमलभीशुरूहोगा।

यहभीपढ़ें: अबसभीअनाथोंकासहाराबनेगीयोगीसरकार,मिलेंगेढाईहजारप्रतिमाह;12वींकेआगेपढ़ाईमेंभीमदद

By Daniels