जागरणसंवाददाता,खड़गपुर:पश्चिममेदिनीपुरजिलाअंतर्गतराजनीतिकहलकोंमेंमाकपासमेततमामवामपंथीदलप्रतिकूलपरिस्थितियोंमेंफिरराजनैतिकसहारेकीतलाशमेंजुटगएहैं।इसकेतहतसंभावितगठबंधनऔरबादकीपरिस्थितियोंकाआकलनकियाजारहाहै।

बतादेंकिसमानविचारधारावालेतमामसंगठनोंकोसाथलेकरवामपंथीदलोंनेजिलेमेंभीकेंद्रवराज्यसरकारकीगलतनीतियोंकेखिलाफअलखजगानेकीकाफीकोशशकी,लेकिनइसकेबावजूदउनकेसामनेव्यावहारिकसमस्याएंजसकीतसबनीहुईहै।उसपरकुछमहीनेबादहोनेजारहेसंसदीयचुनावमेंदमखमदिखानाकार्यकर्ताओंकेलिएमुश्किलचुनौतीसाबितहोरहाहै।ऐसेमेंदलीयकार्यकर्ताफिरसहारेकीतलाशमेंजुटगएहैं।नेताओंकोभीइसबातकाअंदाजाहै।नेताओंकीकोशिशहैकि2016मेंहुएविधानसभाचुनावकीतरहकुछबड़ेदलोंकासमर्थनउन्हेंमिलजाएतोचुनावमेंचुनौतीपेशकरनाउनकेलिएआसानहोजाएगा।नेतृत्वऔरकार्यकर्ताशासकदलोंमेंटीएमसीऔरभाजपाकीआक्रामकप्रचारशैलीसेभी¨चतितहै,क्योंकिवामपंथियोंकाप्रचारतंत्रपरंपरागततरीकेसेकैंपेनकरताहै।माकपानेताअनिलदासनेकहाकिसांगठनिकगतिविधियोंअपनेतरीकेसेचलरहीहै।बड़ेमसलोंपरउच्चस्तरीयनेतृत्वफैसलाकरेगा।

By Davison