रामगढ़:विद्यालयमेंलाइब्रेरीस्थापितकरबच्चोंकाज्ञानबढ़ानेकेलिएजामाविधानसभाकेविधायकसीतासोरेनकीनिधिसेवर्ष2017मेंप्रखंडके99मध्यविद्यालयमेंपुस्तकप्रदानकीगईहैं।लगभगदोवर्षबीतनेकेबादभीआजतकअधिकांशविद्यालयमेंपुस्तकबोरामेंहीबंदहै।जिसकेकारणविधायकनिधिद्वारादीगईइतनीबड़ीराशिकाउपयोगनहींहोरहाहै।जानकारीकेअनुसार30मई2017कोरामगढ़प्रखंडके99मध्यविद्यालयमेंविधायकनिधिद्वारापांचबोरापुस्तकदीगई।प्रभातप्रकाशनकीइसपुस्तकमेंकुल223किताबसमेत472पीसकिताबथी।किताबोंकीकुललागत1,11,120रुपयाहै।जिसमेंसेप्रकाशकद्वारा11120रुपयाछूटदीगईहै।इसप्रकारप्रखंडके99मध्यविद्यालयोंमें99लाखरुपयेकीलागतसेपुस्तकदीगई।सरकारकीविधायकनिधिद्वारासभीमध्यविद्यालयमेंपुस्तकदिलानेकेपीछेमुख्यउदद्ेश्यग्रामीणक्षेत्रकेसभीमध्यविद्यालयमेंपुस्तकालयकीस्थापनाकराकरग्रामीणक्षेत्रकेबच्चोंकोज्ञानवर्धनजानकारीहासिलकरनेकामौकादेनाहै।लेकिनप्रखंडकेअधिकांशविद्यालयमेंपुस्तकालयस्थापितनहींकीगईहै।अधिकांशविद्यालयमेंपुस्तकबोरामेंहीबंदपड़ीहुईहै।वहींकुछविद्यालयकेशिक्षकपुस्तककोअपनेघरपररखवालियाहै।कुछविद्यालयकेशिक्षकोंद्वाराइसपुस्तककाबंदरबांटभीकियागयाहै।हालांकिशिक्षाविभागकीमानेंतोसभीविद्यालयमेंपुस्तकालयकीस्थापनाकरपुस्तककाइस्तेमालभीकियाजारहाहैलेकिनइसकीजमीनीसच्चाईकुछऔरहीहै।विधायकद्वारासभीविद्यालयमेंपुस्तकतोदेदियागयालेकिनउनकेस्तरसेइतनेदिनबादभीअभीतकपुस्तककीकोईखोजखबरनहींलीगईकिआखिरविद्यालयमेंपुस्तककाक्याउपयोगहोरहाहै।लगभगदोवर्षबादभीसभीविद्यालयमेंपुस्तकबोरामेंहीबंदहै।

By Dobson