बगहा।प्रतिरोधोंकासंयोजन,दर्पणकीप्रकृति,²ष्टिदोष,प्रत्यावर्तीधाराकीकमियांऔरसंयोजनअभिक्रियासेजुड़ेप्रश्नोंकोदेखकरपरीक्षार्थियोंकेचेहरेकासाराटेंशनकाफूरहोगया।बिहारविद्यालयपरीक्षासमितिकेतत्वावधानमेंनगरकेनौपरीक्षाकेंद्रोंपरबुधवारकोमैट्रिककीपरीक्षाशुरूहुई।पहलापेपरविज्ञानकाथा,सोपरीक्षार्थीप्रश्नकोलेकरआशंकितथे।पहलीवदूसरीपालीमेंजबपरीक्षार्थियोंकेसामनेप्रश्नपत्रआयातोसाराटेंशनजातारहा।आसानप्रश्नोंनेपरीक्षार्थियोंकोकाफीराहतदी।पहलेदिनकुल187परीक्षार्थीअनुपस्थितरहे।दूसरीओर,कोरोनासंकटकेबीचपरीक्षाकेआयोजनकोलेकरप्रशासनिकस्तरपरचाक-चौबंदव्यवस्थाकीगईहै।सभीकेंद्रोंपरएकमहिलासमेततीन-तीनदंडाधिकारियोंकीतैनातीकीगई।एसडीएमशेखरआनंदनेपहलेदिनबारीबारीसेसभीनौकेंद्रोंक्रमश:मध्यविद्यालयपठखौली,सनराइजपब्लिकस्कूल,सहकारीप्रोजेक्टबालिकाउच्चतरमाध्यमिकविद्यालयपठखौली,एनबीएसमिल्समध्यविद्यालय,एनबीएसमिल्सउच्चतरमाध्यमिकविद्यालय,डीएमएकेडमी,प्रोजेक्टबालिकाउच्चतरमाध्यिकविद्यालय,पंडितउमाशंकरतिवारीमहिलामहाविद्यालयऔरमोनफोर्टस्कूलकाजायजालिया।उन्होंनेमौकेपरमौजूदकेंद्राधीक्षकोंकोसीसीटीवीसेसततनिगरानीकाआदेशदिया।निरीक्षणकेदौरानसभीकेंद्रोंपरशांतिपूर्णमाहौलमेंपरीक्षाहोतीमिली।पहलेदिन187परीक्षार्थीरहेअनुपस्थितबगहाबिहारविद्यालयपरीक्षासमितिद्वाराआयोजितमैट्रिकपरीक्षाकेप्रथमदिनविज्ञानकीपरीक्षासेदोनोंपालीमें187छात्ररहे।बगहाएकस्थितप्लसटूप्रोजेक्टबालिकाउच्चतरमाध्यमिकविद्यालयमेंप्रथमपाली866में10वद्वितीयपालीमें871में35,प्लसटूडीएमएकेडमीबगहामेंप्रथमपालीमें1193मेंआठवद्वितीयपालीमें1218में17,पंडितउमाशंकरतिवारीमहिलामहाविद्यालयबनकटवामेंप्रथमपालीमें763में13वद्वितीयपालीमें758में12अनुपस्थित,मानफोर्टपब्लिकस्कूलबनकटवामेंप्रथमपालीबे720मेंआठएवंद्वितीयपाली681में11,प्लसटूएनबीएसस्कूलनरईपुरमेंप्रथमपालीमें840में17वद्वितीयपालीमें791मेंएकअनुपस्थित,मध्यविधालयनरईपुरमेंप्रथमपालीमें222मेंतीनवद्वितीयपालीमें280मेंतीनअनुपस्थित,मध्यविधालयपठखौलीमेंप्रथमपालीमें567में11एवमद्वितीयपालीमें567में11,प्लसटूसहकारिताप्रोजेक्टबालिकाउच्चविद्यालयपटखौलीप्रथमपालीमें260मेंसातएवमद्वितीयपालीमें956में13तथासनराइजपब्लिकस्कूलनारायणपुरमेंप्रथमपालीमें420मेंतीनएवंद्वितीयपालीमें460मेंचारछात्रअनुपस्थितथे।परीक्षाकेदौरानदोपरीक्षार्थीबेहोश:-बुधवारकोमैट्रिकपरीक्षाशुरूहोनेकेबादपहलेदिनकुलदोपरीक्षार्थीबेहोशहोगए।नगरकेडीएमएकेडमीमेंपरीक्षादेरहेरामनगरनिवासीकैलाशसाहकेपुत्रअंकितकुमारकेअचेतहोनेकेबादउसेएंबुलेंससेइलाजकेलिएअनुमंडलीयअस्पताललेजायागया।दूसरीओर,पंडितउमाशंकरतिवारीमहिलामहाविद्यालयमेंपरीक्षादेरहीआशियानाखातूनभीवर्गकक्षमेंअचानकअचेतहोगई।सूचनापरमेडिकलटीमपहुंचीतथामहिलापरीक्षार्थीकोइलाजकेलिएएंबुलेंससेअस्पताललेजायागया।प्रोजेक्टकन्याउच्चतरमाध्यमिकविद्यालयबगहाएकमेंभीएकमहिलापरीक्षार्थीकीतबीयतबिगड़गई।अनुमंडलीयअस्पतालकेप्रभारीउपाधीक्षकडॉ.के.बी.एन.सिंहनेबतायाकिछात्रकोमिर्गीकादौरापड़ाथा।जबकिछात्राघबरानेकेकारणबीमारहोगईथी।इलाजकेबाददोनोंठीकहैं।परीक्षाकेलिएमेडिकलटीमगठित:

मैट्रिकपरीक्षाकोलेकरअनुमंडलीयअस्पतालकेप्रभारीउपाधीक्षकनेमेडिकलटीमकागठनकियाहै।टीममेंडॉ.अशोककुमारतिवारी,डॉ.सुरेंद्रप्रसादअग्रवाल,परिचारिकाशालिनीकुमारी,रूसीकुमारी,विजयसिंह,पंकजकुमार,रमेशरंजनपरामर्शी,संतोषकुमारपरिचारी,काशीयादवसहितइएमटीएवंएंबुलेंसचालककोशामिलकियागयाहै।टीमपरीक्षाअवधिकेदौरानशहरमेंभ्रमणशीलरहकरआपातकालीनचिकित्सीयसहायतामुहैयाकराएगी।

By Davis