भोपाल:अक्षयकुमारकीफिल्म'पैडमैन'इसमहीनेकीनौतारीखकोरिलीजहोरहीहै.इसबीचमध्यप्रदेशके नरसिंहपुरमेंअमेरिकाकीकैलिफोर्नियासेआईंमायाविश्वकर्मानामकीएकएनआरआईमहिलाइलाकेमें'पैडवुमन'काकिरदारनिभारहीहैं.सस्तेदामोंपरयेसैनिटरीपैडतोबनाहीरहीहैं,इसकेसाथहीमहिलाओंऔरछात्राओंकेबीचजाकरजागरुकताभीफैलारहीहैं.

एमपीकेनरसिंहपुरकेबाहरीइलाकेझिरनारोडपरकच्चेपक्केरास्तेपरएकघरबनाहैं.इनदिनोंयेघरआसपासकीमहिलाओंकेलिएरोजमर्राकेकामकाजकाजरियाबनगयाहै.इसघरकेएककमरेमेंसेनेटरीपैडबनानेकाछोटासाकारखानाचलताहै.इसमेंदिनकीदो शिफ्टमेंछह-छहमहिलाएंकामकरतीहैं.

इसकारखानेकेपीछेमायाविश्वकर्मारहतीहैं.वेइसजिलेकेएकगांवसेएमएससीकरनेकेबाद अमेरिकाकीकैलिफोर्नियामेंरिसर्चस्कालर बनीं. वेअपनेजीवनकीशुरुआतीपरेशानियोंसेसबकलेकरमहिलाओंकोइसबारेमेंजागरुककरनाचाहतीहैंकिमाहवारीकेदिनोंमेंगंदेकपड़ेनहींबल्किसस्तेपैडलगाएं.

पीरियड्सऔरपैडआमतौरपरचर्चासेदूररहनेवालेविषयहैं.मगरमायानेइसीकड़ीकोतोड़नेकीकोशिशकी.वेपिछलेसालअरुणाचलममुरुगनाथमसेमिलींऔरपैडबनानेकी मशीन केबारेमेंजाना.उन्होंनेउससेबेहतर मशीन तलाशकरअपनेजिलेमेंहीपैडबनानेकाकामशुरू किया.अबवेआसपासकीमहिलाओंकोरोजगारतोदेहीरहीहैंसाथहीसाथपासकेगांवमोहल्लोंमेंजाकरमाहवारीकेदिनोंमेंगंदेकपड़ोंसेबचनेकीसलाहभीदेतीहैं.

मायानेयेजिलाइसलिएभीचुनाक्योंकिइसीनरसिंहपुरजिलेमेंपिछलेसालनौमहीनेमें600सौमहिलाओंकीबच्चेदानीनिकालीगयीथी.पीरियड्समेंइंफेक्शनसे शुरूहोनेवालीयेबीमारीइतनीबढ़जातीहै,जिसकाडॉक्टरसिर्फऑपरेशनकेजरिएहीइलाजकरतेहैं.गरीबघरोंकीमहिलाओंकोमहंगेऑपरेशनसेजूझना पड़ताहै.

मायाअबसस्तेसैनिटरीपैडकोलेकरजागरुकताफैलानेकेलिएमध्यप्रदेशकेआदिवासीजिलोंमेंएकमहीनेकीयात्रापरजारहीहैं. वेछात्राओंकेबीचजाएंगीऔरसैनिटिरीपैडऔरमाहवारीकी मुश्किलोंसेकैसेनिबटें,इसकीजानकारीदेंगी.'पैडमैन'फिल्मआनेसेभीलोगअबपैडऔरउनकेकामकेबारेमेंजाननेलगेहैं,येजानकरमायाकोअच्छालगताहै.

पैडबनानेकेकारखानेदेशमेंदूसरीजगहोंपरभीचलरहेहैं,मगरयेकारखानाइसमायनेमेंअलगहैकियहांपूराकाममहिलाएंहीकरतीहैं.यहांकारखानेकाकामपूराकरआसपासकीजगहोंपरसैनिटरीपैडकोलेकरजागरुकताभीफैलातीहैं.इसीवजहसेयहांकेलोगइनको'पैडवुमन'कहतेहैं.

By Daniels